खाद्यतेल-दाल-सब्जियों के गिरे दाम में,  इस बढ़ती महंगाई से नागरिकों को मिली कुछ हद तक की राहत

    नाशिक. पिछले कुछ माह से पेट्रोल-डीजल सहित खाद्यतेल (Edible oil) और दाल (Pulses) के दाम बढ़ रहे है। इसके चलते आम नागरिकों का मासिक बजट (Monthly Budget) तहस-नहस हो गया है। आज की स्थिति में इंधन (Fuel) के दाम हर दिन बढ़ रहे है। ऐसे में खाद्यतेल, दाल और सब्जियों के दाम गिरने से आम नागरिकों को बढ़ती महंगाई (Inflation) से कुछ हद तक राहत मिली है।

    दाल के दाम एक किलो के पिछे 10 रुपए तो खाद्यतेल के दाम भी 15 से 17 रुपए से कम हो गए है। आवक बढ़ने से पिछले सप्ताह की तुलना में सब्जियों के दाम भी कम हो गए है। कोरोना महामारी के चलते जिला सहित राज्य में सख्त निर्बंध लागू किए गए।परिणामस्वरूप यातायात सेवा के साथ सभी व्यवहार ठप हो गए। इसका परिणाम रोजमर्रे में उपयोग आने वाली वस्तूंओं पर हुआ भोजन बनाने के लिए खाद्यतेल, दाल और सब्जियों की जरूरत होती है। तेल का 15 किलो डिब्बा दो हजार रुपए तक पहुंच गया। परंतु पिछले कुछ दिनों से स्थिति पहले जैसी होने से खाद्यतेल के दाम कम हो गए। मूंगफली, सूर्यफुल, सोयाबीन सहित अन्य सभी तेल के दाम एक किलो के पिछे 15 से 17 रुपए से कम हो गए।15 किलो डिब्बे के दाम 200 से 250 रुपए तक कम हो गए है साथ ही तुअर, मूंग, उड़ीद दाल की कीमत एक किलो के पिछे 10 रुपए से कम हो गई है। केंद्र सरकार ने दाल तैयार करने वाले कारखाने और आयात दर के भंडारण पर मर्यादा लाई है। इसके चलते मसूर दाल छोड़कर अन्य दाल की कीमत 10 रुपए से कम हो गई है।

    बढ़ेगे सब्जियों के दाम?

    बारिश का असर सब्जियों पर होता है। आम तौर पर बारिश होने के बाद सब्जियों का नुकसान बड़े तौर पर होता है। इसके चलते बारिश के प्रतिशत पर सब्जियों के दाम निश्चित होते है। ऐसी जानकारी कुछ बिक्रेताओं ने दी है, पिछले सप्ताह में बारिश न होने से सब्जियों के दाम कम हो गए। परंतु आगामी सप्ताह में बारिश होने पर सब्जियों के दाम बढ़ने की संभावना विक्रेताओं ने व्यक्त की।

    तेल के दाम रहेंगे स्थिर

    कोरोना संकट के चलते कुछ माह से मंडी में कच्चे माल तेज की आवक कम हुई थी। अब कच्चे माल की आवक बढ़ने से खाद्य तेल की कीमत भी कम हो गई है। आगामी समय में यह कीमत स्थिर रहेगी। ऐसी संभावना व्यावसायिकों ने व्यक्त की।

    पिछले सप्ताह में बारिश न होने से सब्जियों का नुकसान नहीं हुआ। इसके चलते कीमत कम हो गई है। आगामी सप्ताह में बारिश शुरू होने से सब्जियों के दाम बढ़ने की संभावना है।

    वंदना मुकनर, सब्जी बिक्रेता

    केंद्र सरकार ने दाल के भंडारण की मर्यादा निश्चित की है। इसके चलते दाल के दाम कम हो गए है। आगामी समय में भी दाल के दाम कम होने वाले है तो तेल के दाम स्थिर रहेंगे।

    प्रकाश पटेल, उपाध्यक्ष, महाराष्ट्र खाद्यतेल एसोसिएशन