Life in Odisha affected by congress' shutdown

    भुवनेश्वर. ईंधन की कीमत में वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस (Congress) द्वारा आहूत छह घंटे बंद की वजह से पूरे ओडिशा (Odisha) राज्य में जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित रहा। सुबह सात बजे से बंद की वजह से शैक्षणिक संस्थान बंद रहे और ट्रेनों का परिचालन प्रभावित हुआ तथा सड़कों से वाहन नदारद रहे। गृह विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि किसी भी जिले से अप्रिय घटना की खबर नहीं है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राजधानी भुवनेश्वर समेत राज्य के विभिन्न हिस्सों में राष्ट्रीय राजमार्ग को बंद कर दिया जिससे यातायात जाम लग गया।

    विधायक सुरेश रौत्रे (Suresh Rautray) ने भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर ‘रेल रोको’ धरने का नेतृत्व किया। सरकारी वाहनों की अनुपलब्धता की वजह से हवाई और बस यात्रियों को भी अपने गंतव्य स्थान पर पहुंचने में दिक्कत हुई। किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए भुवनेश्वर में 25 कंपनी पुलिस की तैनाती की गई थी। ओडिशा प्रदेश कांग्रेस कमेटी (Odisha Pradesh Congress Committee) प्रमुख निरंजन पटनायक (Niranjan Patnaik) ने कहा, ‘‘लोगों के समर्थन की वजह से बंद पूरी तरह से शांतिपूर्ण रहा।” उन्होंने बताया कि बंद से एम्बुलेंस, दुग्ध वाहन, मीडियाकर्मियों के वाहन, परीक्षार्थियों और आपात सेवाओं को छूट दी गई थी।

    उन्होंने बताया, ‘‘पेट्रोलियम उत्पादों (Petroleum Products) पर कर घटाकर पेट्रोल और डीजल (Petrol and Diesel) की कीमतों को कम करने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार पर दबाव बनाने के लिए बंद का आह्वान किया गया गया था।” राज्य में सत्तारूढ़ बीजद ने न तो इस बंद को अपना समर्थन दिया और न ही बंद का विरोध किया लेकिन भाजपा ने बंद की वजह से लोगों को हुई दिक्कतों के लिए कांग्रेस की आलोचना की। भुवनेश्वर में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 89.69 रुपये जबकि एक लीटर डीजल की कीमत 86.47 रुपये है।(एजेंसी)