The court told the ED - Do not arrest Shivshankar till 23 October

कोच्चि. सीमा शुल्क विभाग ने यहां एक अदालत से केरल सोना तस्करी मामले में गिरफ्तार निलंबित आईएएस अधिकारी एम शिवशंकर की हिरासत सात दिन बढ़ाने का सोमवार को आग्रह किया। सीमा शुल्क विभाग ने अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (आर्थिक अपराध) की अदालत में एक याचिका दायर कर आरोपी की हिरासत को सात दिन बढ़ाने का अनुरोध किया। सीमा शुल्क (निवारक) आयुक्तालय ने दावा किया कि मामले की मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश ने हिरासत में पूछताछ के दौरान जो जानकारियां दी हैं, उनसे सोना तस्करी मामले के मुद्रा तस्करी मामले से जुड़े होने और शिवशंकर की संलिप्तता के संकेत मिलते हैं।

एजेंसी ने अदालत में सुरेश के बयान की प्रति भी जमा की है जो उन्होंने जांच अधिकारी के सामने 27 नवंबर को दिया था। शिवशंकर की पांच दिन की हिरासत सोमवार को खत्म होने के बाद सीमा शुल्क विभाग ने उक्त दावे किए। अदालत ने शिवशंकर की हिरासत को बढ़ाने का आग्रह करने वाले आवेदन पर सुनवाई मंगलवार को सूचीबद्ध की है। इसी के साथ, सुरेश और सोना तस्करी मामले में अन्य आरोपी सरिता पीएस की हिरासत सोमवार को खत्म होने पर उन्हें अदालत में पेश किया गया।

 

एजेंसी ने इनकी भी हिरासत सात दिन के लिए बढ़ाने का अनुरोध किया था लेकिन अदालत ने सुरेश और सरिता की हिरासत तीन दिन के लिए बढ़ाई है। उन्हें तिरुवंनतपुरम में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के महावाणिज्य दूतावास के एक पूर्व कर्मी को 1,90,000 अमेरिकी डॉलर मस्कट ले जाने में मदद करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

सीमा शुल्क विभाग ने कहा था कि उसने पांच जुलाई को तिरुवंनतपुरम में यूएई के महावाणिज्य दूतावास के राजनयिक सामान से 30 किलोग्राम सोना जब्त किया था। इस संबंध में सुरेश और सरिता समेत 15 लोगों को गिरफ्तार किया है। (एजेंसी)