Karnataka Congress demands investigation into suicide attempt of political secretary to Chief Minister

बेंगलुरू. कर्नाटक कांग्रेस ने मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा के राजनीतिक सचिव एन आर संतोष के आत्महत्या के कथित प्रयास की जांच की मांग शनिवार को की ताकि सच्चाई सामने आ सके। पार्टी ने दावा किया कि कुछ गोपनीय मामले इससे जुड़े हुए हैं। कांग्रेस के राज्य अध्यक्ष डी. के. शिवकुमार ने आरोप लगाया कि कुछ वीडियो संतोष की आत्महत्या के प्रयास के कारण हो सकते हैं जो ‘निजी’ प्रकृति के हैं। बताया जाता है कि इस वीडियो को लेकर वह परेशान थे। उन्होंने विधान परिषद् के एक सदस्य और एक मंत्री पर भी मुख्यमंत्री को ‘ब्लैकमेल’ करने के आरोप लगाए। बहरहाल, मंत्री आर. अशोक और के एस ईश्वरप्पा ने शिवकुमार के बयान को ‘भ्रमित करने वाला, काल्पनिक और निराधार’ बताया।

शिवकुमार ने कहा, ‘‘मुझे कुछ चीजों के बारे में जानकारी है, एक विधान पार्षद और एक मंत्री को वीडियो दिया गया, जिन्होंने इसे दिल्ली के नेताओं को दिया…मुझे दो-तीन महीने पहले चीजों की जानकारी हुई।” उन्होंने कहा, ‘‘विधान पार्षद और मंत्री द्वारा कुछ दिनों पहले दिल्ली के (भाजपा) नेताओं को वीडियो दिए जाने के बाद, बताया जाता है कि वह (संतोष) निराश थे। मैं यह नहीं कह सकता कि यह कितना सत्य है।”

कारवार में संवाददाताओं से बात करते हुए उन्होंने महज इतना ही कहा कि इसकी जांच होनी चाहिए लेकिन अगर इस सरकार के मातहत कोई एजेंसी जांच करती है तो यह निरर्थक होगा। उन्होंने कहा, ‘‘कुछ गोपनीय बातें शामिल हैं, ब्लैकमेलिंग हुई, विधान पार्षद और मंत्री ने मुख्यमंत्री एवं अन्य को ब्लैकमेल किया, कई लोगों ने मुझे फोन से यह जानकारी दी।”

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि यह कितना सत्य है।” संतोष को कल रात कथित तौर पर आत्महत्या का प्रयास करने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया और अब उनकी हालत स्थिर है। उन्होंने नींद की गोलियां खाकर आत्महत्या का प्रयास किया था। शिवकुमार के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए राजस्व मंत्री आर. अशोक ने कहा कि राज्य कांग्रेस के अध्यक्ष इस तरह के झूठे आरोप लगाते रहते हैं और आजकल वे इस तरह के ज्यादा से ज्यादा, मनगढ़ंत बयान दे रहे हैं।(एजेंसी)