100 छात्रों को मिलेगी छात्रवृत्ति

पुणे. सूर्यदत्ता एजुकेशन फाउंडेशन की ओर से उच्च शिक्षा (स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम) के लिए 100 छात्रों को 100 प्रतिशत छात्रवृत्ति दी जाएगी. ऐसी जानकारी सूर्यदत्ता ग्रुप ऑफ इन्स्टिट्यूट्स के संस्थापक अध्यक्ष प्रा. डॉ. संजय चोरडिया ने दी. अपने छात्रवृत्ति उपक्रम की जानकारी देने के लिए शुक्रवार को आयोजित एक प्रेस वार्ता में डॉ. संजय चोरडिया बोल रहे थे.

उन्होंने कहा कि सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय से संलग्नित एमएस्सी (संगणकशास्त्र), एमकॉम, एमबीए, तकनीकी शिक्षा महामंडल से संलग्नित पीजीडीएम आणि मास्टर इन फाईन आर्टस् तथा स्नातकोत्तर डिप्लोमा इनमें से हर पांच पाठ्यक्रमों के लिए 20 इस हिसाब से 100 छात्रों को छात्रवृत्ति दी जाएगी. कोरोना महामारी के संकट के कारण शिक्षा क्षेत्र पर काफी बुरा असर हुआ है. 

कोई भी छात्र 30 सितंबर तक कर सकता आवेदन 

ऐसे में वित्तीय संकट के चलते छात्रों का नुकसान ना हों, इस दिशा में ‘सूर्यदत्ता’ की ओर से एजु-सोशियो कनेक्ट एण्ड सीएसआर इनिशिएटिव उपक्रम के तहत यह छात्रवृत्ती दी जाएगी. इस छात्रवृत्ति के लिए कोई भी छात्र 30 सितंबर तक आवेदन कर सकता है, ऐसी जानकारी उन्होंने दी. इस समय ‘सूर्यदत्ता’चे मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रा. डॉ. शैलेश कासांडे, कार्यकारी संचालक प्रा. सुनील धाडीवाल, प्राचार्य अजित शिंदे, विभागप्रमुख मंदार दिवाने आदी उपस्थित थे.

डेढ़ से दो करोड़ तक रहेगी छात्रवृत्ति

डॉ. चोरडिया ने कहा कि इन पाठ्यक्रमों का शुल्क आम तौर पर 20 हजार से 2 लाख 50 हजार तक है. 100 छात्रों की कुल मिलाकर छात्रवृत्ति की रकम डेढ़ से 2 करोड़ तक होती है. इसमें कोरोना संकट में प्रभावित हुए नौकरीपेशा लोगों के बच्चे, हमाल पंचायत, स्वच्छता संस्थाएं, निर्माण मजदूर, कम आय वाले गुट के लोगों को इस छात्रवृत्ति का लाभ मिलेगा. साथ में फ्रंटलाइन पर काम करने वाले कोरोना वॉरियर्स जैसे डॉक्टर, नर्स, पुलिस समेत शहीद जवानों के बच्चे, अनाथ और पिछड़े वर्ग से आने वाले बच्चों को इसका काफी लाभ होगा.

रायकर के बेटे का शिक्षा का खर्च उठाएगी ‘सूर्यदत्ता’

हाल ही में टीवी-9 चैनल के पत्रकार पांडुरंग रायकर की कोरोना से मौत हो गई है. उन्हें 4 साल का लड़का और ढाई साल की लड़की है. इस प्रेसवार्ता में चोरडिया ने घोषणा की कि पांडुरंग के बेटे का दसवीं कक्षा तक शिक्षा का पूरा खर्च ‘सूर्यदत्ता’ की ओर से निभाया जाएगा. साथ में पत्रकारों के बच्चों को भी छात्रवृत्ति का लाभ देने की घोषणा डॉ. संजय चोरडिया ने इस समय की.