vikarm kumar

    पुणे. पुणे शहर (Pune City) में कोरोना (Corona) का कहर बढ़ता जा रहा है। इसको देखकर पुणे महानगरपालिका प्रशासन (Pune Municipal Corporation Administration) की ओर से पहले से ही सख्त प्रतिबंध (Strict Restrictions) लागू किए थे, लेकिन अब यह प्रतिबंध और भी सख्त किए गए हैं।

    शहर में अब सामाजिक (Social), राजनैतिक (Political), धार्मिक (Religious)और सांस्कृतिक कार्यक्रमों (Cultural Programs) पर पूरी तरह से पाबन्दी लगा दी गई है। हाल ही में महानगरपालिका कमिश्नर विक्रम कुमार द्वारा यह निर्देश जारी किए गए है। 

    पहले के प्रतिबंध वैसे ही जारी 

    कोरोना मरीजों की बढ़ती तादाद देखकर प्रतिबंधों को सख्त करने का निर्णय लिया गया था। पुणे जिले में स्कूल और कॉलेज 31 मार्च तक बंद रहेंगे। (10वीं, 12वीं की परीक्षा को छोड़कर)। पहले की तरह रात 11 बजे से कर्फ्यू जारी रहेगा। होटल, बार, रेस्तरां 10 बजे तक खुले रहेंगे। रात 11 बजे तक पार्सल सेवा जारी रहेगी। ऐसा डिविजनल कमिश्नर द्वारा कहा गया है।  होटल, रेस्तरां में 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ जारी रखने होंगे। होटल के सामने एक साइन बोर्ड लगाना होगा। 

    समारोह में सिर्फ 50 लोग 

    डिविजनल कमिश्नर के अनुसार दशक्रिया, अंतिम संस्कार में सिर्फ 20 लोग उपस्थित रहेंगे। शादी, समारोह में 50 लोगों की उपस्थिति अनिवार्य होगी।  इसका उल्लंघन करने पर पुलिस कार्रवाई होगी। कभी-कभार होटल मालिक पर भी कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। साथ ही जगह को भी सील किया जाएगा। राव ने आगे कहा कि हाऊसिंग सोसायटी में क्लब हाउस बंद रहेंगे।  मॉल, सिनेमा हॉल रात 10 बजे बंद हो जाएंगे। फुटपाथों पर एक बार में पांच से अधिक लोग नहीं रुक सकते। 

    कोरोना मरीजों की बढ़ रही तादाद 

    शहर में कोरोना संक्रमण अब तेजी से फ़ैल रहा है। मंगलवार को 1,925 लोग पॉजिटिव पाए गए। उसकी तादाद में ठीक होनेवाले लोगों की तादाद कम है। इस वजह से अब एक्टिव केसेस की तादाद लगभग 13 हजार से अधिक हो चुकी है तो गंभीर मरीजों की तादाद भी बढ़ रही है।