Three people arrested for illegal mining

पिंपरी. हत्या और डकैती जैसे संगीन मामले का मोस्ट वांटेड आरोपी अमर चव्हाण पिंपरी-चिंचवड़ क्राइम ब्रांच की फिरौती और लूटपाटरोधी टीम के हत्थे चढ़ गया. बुधवार की रात पाचाणे ग्रामपंचायत के सामने उसकी गिरफ्तारी हुई. पुलिस ने बताया कि आरोपी का पूरा नाम अमर नानासाहेब चव्हाण (20) है. पुलिसकर्मी आशीष बोटके को बुधवार, 29 जुलाई को जानकारी मिली कि चिंचवड़ पुलिस स्टेशन में दर्ज हत्या के मामले में आरोपी अमर चव्हाण पाचाणे ग्रामपंचायत के सामने खड़ा है. 

इसके बाद पुलिस ने पाचाणे ग्रामपंचायत परिसर में जाल बिछाया और रात को 11 बजे उसे दबोच लिया. पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में उसने चिंचवड़ इलाके में हत्या की बात कबूल ली. इसके बाद उसे आगे की कार्रवाई के लिए चिंचवड़ पुलिस को सौंप दिया गया. 

 हत्या और डकैती के मामले में था फरार

आरोपी अमर चिंचवड़ पुलिस स्टेशन में दर्ज हत्या और डकैती के मामले में पिछले कुछ महीनों से फरार था. पुलिस के अनुसार आरोपी अमर का नाम पुलिस के रिकॉर्ड में शातिर अपराधी के तौर पर दर्ज है. उस पर दिसंबर 2017 में एमपीडीए अधिनियम के तहत स्थानबद्धता की कार्रवाई की गई थी. इसके अलावा उसके खिलाफ पिंपरी पुलिस स्टेशन में एक और चिंचवड़ पुलिस स्टेशन में 9 मामले दर्ज हैं. यह कार्रवाई वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुधीर अस्पत, उप-निरीक्षक अनिकेत हिवरकर, पुलिसकर्मी अजय भोसले, अशोक दुधवणे, महेश खांडे, उमेश पुलगम, किरण काटकर, नितिन लोखंडे और आशीष बोटके की टीम ने की.