Pune's famous Paranjpe builder owner in custody of Mumbai Police

    पुणे. पुणे के कंस्ट्रक्शन में तब फिर खलबली मच गई जब यहां के एक औऱ मशहूर बिल्डर पर पुलिस ने शिकंजा कसा। अभी लुंकड़ रियलिटी के मालिक अमित लुंकड़ (Amit Lunkad) की गिरफ्तारी (Arrest) का मामला ताजा ही है कि पुणे (Pune) के ही मशहूर परांजपे बिल्डर (Paranjpe Builder) के मालिकों को मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने हिरासत में लिया है। परांजपे परिवार की विलेपार्ले की जमीन के मामले में गुरुवार की देर रात विलेपार्ले पुलिस ने प्रसिद्ध बिल्डर श्रीकांत और शशांक परांजपे को पुणे से हिरासत में लेकर मुंबई ले जाया गया। 12 घन्टे से भी ज्यादा समय तक दोनों से पूछताछ जारी है। 

    इस मामले में मुंबई पुलिस ने श्रीकांत पुरुषोत्तम परांजपे (63) और शशांक पुरुषोत्तम परांजपे (59) को हिरासत में लिया है। इस मामले में विलेपार्ले पुलिस स्टेशन में दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। ठगी के ही मामले में 3 दिन पहले पुणे पुलिस ने मशहूर बिल्डर अमित लुंकड को गिरफ्तार किया था। इसके बाद मुंबई पुलिस द्वारा गुरुवार रात परांजपे भाइयों को धोखाधड़ी के मामले में ही गिरफ्तार किए जाने से कंस्ट्रक्शन क्षेत्र में खलबली मच गई है।

    ठगी और विश्वासघात का केस दर्ज

    इस संबंध में विलेपार्ले पुलिस ने बताया कि एक जमीन के मामले में परांजपे भाइयों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। हालांकि उनकी गिरफ़्तारी के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। पुलिस ने बताया कि श्रीकांत और शशांक परांजपे के खिलाफ ठगी और विश्वासघात का केस दर्ज किया गया है। उन्हें गिरफ्तार करने के लिए नहीं बल्कि पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। सबूतों की जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

    विलेपार्ले में 70 वर्षीय महिला ने की शिकायत 

     उनके खिलाफ एक 70 वर्षीय महिला द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई है। इस शिकायत में माधव परांजपे और राघवेंद्र पाठक का भी नाम शामिल है। इससे पहले आरोपियों पर जनवरी 2020 में दर्ज कराई गई ठगी और विश्वासघात केस की तरह केस दर्ज है। इस मामले में सबूतों की जांच का काम चल रहा है। परांजपे परिवार की विलेपार्ले स्थित जमीन के प्लॉट मामले में यह केस दर्ज किया गया है। गृह रचना सोसायटी के जन्मदाता भाऊराव परांजपे की बेटी वसुंधरा डोंगरे (उम्र 70 ) है। श्रीकांत और शशांक परांजपे के पिता पुरुषोत्तम वसुंधरा के चाचा है। वसुंधरा डोंगरे ने अपने सगे भाई जयंत परांजपे के खिलाफ भी शिकायत दर्ज कराई है।अपनी मां सरस्वती परांजपे  का फर्जी हस्ताक्षर कर उनके नैसर्गिक अधिकार को नकारा गया।