Supriya Sule

    पुणे. लोकसभा (Lok Sabha) में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए चेन्नई (Chennai) स्थित प्राइम प्वाइंट फाउंडेशन (Prime Point Foundation) और ई-पत्रिका (E-Magazine)द्वारा दिया जाने वाला संसद महारत्न पुरस्कार (Sansad Maharatna Award) शनिवार (20 दिसंबर) को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) की सांसद सुप्रिया सुले (MP Supriya Sule) को घोषित किया गया है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा, केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और सुप्रीम कोर्ट के सेवानिवृत्त जज ए. के. पटनायक की उपस्थिति में उन्हें यह पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। उन्हें लगातार छठीं बार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है।

    लोकसभा में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले सांसद को फाउंडेशन द्वारा यह पुरस्कार दिया जाता है। पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम की संकल्पना से इस पुरस्कार की शुरुआत हुई थी। यह जानकारी फाउंडेशन के के. श्रीनिवासन ने यह जानकारी दी है। 

    22 प्राइवेट बिल प्रस्तुत किए

    मौजूदा 17वीं लोकसभा में सुप्रिया सुले को उनकी उपस्थिति और बहस में भागीदारी के लिए लगातार छठीं बार संसद रत्न पुरस्कार इस कार्यक्रम में प्रदान किया जाएगा। 16वीं लोकसभा में सुले ने सदन में 96 फीसदी उपस्थिति के साथ 152 चर्चा में हिस्सा लिया। उन्होंने कुल 1186 प्रश्न उठाए और 22 प्राइवेट बिल प्रस्तुत किए। इसके लिए फाउंडेशन द्वारा हर पांच साल में दिया जाने वाला संसद महारत्न पुरस्कार सुले को प्रदान करने की घोषणा की गई है।