‘वर्चुअल मेगा किसान मेला’ आयोजित

  • पिछले दो वर्षों से बैंक ऑफ बड़ौदा मना रहा किसान पखवाड़ा

पुणे. बीते 1 अक्टूबर से 15 अक्टूबर 2020 के बीच बैंक ऑफ बड़ौदा की ओर से ‘बड़ौदा किसान पखवाडा’ मनाया गया. पिछले 2 वर्षों से यह पखवाड़ा मनाया जाता है. इस वर्ष पखवाड़े का समापन 16 अक्टूबर को किया गया. इस पखवाड़े के दौरान 13 अक्टूबर को बैंक ऑफ बड़ौदा, पुणे अंचल द्वारा ‘वर्चुअल मेगा किसान मेला’ आयोजित किया गया. कोविड-19 की स्थिति को ध्यान मे रखते हुए यह किसान मेला डिजिटल माध्यम से मनाया गया.

व्यावसायिक और आधुनिक खेती करें किसान

वर्चुअल किसान मेले मे बैंक के कार्यपालक निदेशक एस. एल. जैन, बैंक के मुख्य महाप्रबंधक (ग्रामीण एवं कृषि विभाग व वित्तीय समावेशन विभाग) रोहित कुमार पटेल एवं पुणे अंचल के अंचल प्रमुख कमलेश कुमार चौधरी, उपअंचल प्रमुख विजय कुमार झा और पुणे अंचल के अंतर्गत कार्यरत सभी क्षेत्र के क्षेत्रीय प्रमुख आदि वर्चुअल माध्यम से किसानों के साथ रूबरू हुए. इस मेले की शुरुआत करते हुए कमलेश कुमार चौधरी ने सभी का स्वागत किया. उन्होंने बताया कि आज अन्नदाता किसान की वजह से देश कोविड-19 जैसे महामारी का सामना करने में सक्षम है. किसान देश के रीढ़ की हड्डी हैं और भारतीय अर्थव्यवस्था को ऊंचाई पर ले जाने में सारे किसानों की अहम भूमिका है. बैंक ऑफ बड़ौदा की सभी शाखाएं लगातार चौपाल के माध्यम से बैंक उत्पादों का प्रचार-प्रसार किसानों के साथ कर रही है और किसानों को आवश्यकतानुसार बैंक ऋण प्रदान किया जा रहा है. इस मौके पर एस. एल. जैन ने कहा कि किसानों को अपनी आय बढ़ाने के लिए पारंपरिक खेती के बजाय व्यावसायिक और आधुनिक खेती करनी चाहिए. किसानों को अपनी उपज का उचित और सटीक मूल्य प्राप्त करने के लिए ग्राहकों के साथ सीधे संपर्क करना चाहिए.

113 करोड़ रुपये के ऋण मंजूर किए गए

इस वर्चुअल मेगा किसान मेले में पुणे अंचल कार्यालय के तहत कार्यरत 10 क्षेत्रीय कार्यालय और 617 शाखाएं और 5000 से भी अधिक किसान  शामिल हुए. इस ‘बड़ौदा किसान पखवाडा’ के दौरान पुणे अंचल के अंतर्गत विविध शाखाओं द्वारा कृषि क्षेत्र से संबंधित विविध ऋण योजनाओं के माध्यम से कुल 113 करोड़ रुपये के ऋण मंजूर किए गए. कार्यक्रम का समापन विजय कुमार झा द्वारा धन्यवाद ज्ञापन से किया गया.