गुरुवार को करें ये उपाय, चमकेगी किस्मत और खुल जाएगा भाग्य का दरवाजा

    -सीमा कुमारी

    हिंदू धर्म में गुरुवार का दिन भगवान विष्णु को समर्पित माना गया है। धार्मिक मान्यता के अनुसार, बृहस्पति देव सभी देवताओं के गुरु हैं। ऐसा कहते हैं कि इस दिन भगवान विष्णु की सच्चे मन से पूजा और आराधना करने से भक्तों के मन की मुरादें पूरी हो जाती हैं और भगवान विष्णु प्रसन्न होकर अपने भक्तों पर कृपा बरसाते हैं।

    धर्म शास्त्रों के अनुसार, देव गुरु बृहस्पति सभी तरह की परेशानियों से छुटकारा दिलाते हैं। अगर कुंडली में गुरु-ग्रह के दोष की वजह से आपके दांपत्य जीवन में परेशानियां आ रही हैं, तो ऐसे में आपको गुरुवार के दिन कुछ विशेष उपाय करने से इन समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है। आइए जानें गुरुवार के दिन कौन से उपाय करने चाहिए…

    • मान्यताएं हैं कि, गुरुवार के दिन भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए पूजा में पीले रंग के फूल, चने की दाल, पीले कपड़े और पीले चंदन का उपयोग करना चाहिए और स्वयं भी पीले वस्त्र धारण करने चाहिए।
    • धर्मगुरु कहते हैं कि इस दिन पूजा विधि-विधान के अनुसार की जानी चाहिए। व्रत वाले दिन सुबह उठकर बृहस्पति देव का पूजन करना चाहिए।
    • ऐसा कहा जाता है कि गुरुवार के दिन मंदिर में चने की दाल और केसर का दान करना चाहिए। ऐसा करने से आपकी कुंडली में बृहस्पति ग्रह मजबूत हो सकता है।
    • धर्म-शास्त्रों के अनुसार, इस दिन चंदन का तिलक मस्तक पर जरूर लगाना चाहिए। इससे ज्ञान और विवेक में वृद्धि होती है, और कुंडली में गुरु-दोष खत्म हो जाते हैं, और वैवाहिक जीवन में सुख-शांति आती है।
    • मान्यता तो ये भी है कि, इस दिन केले के पेड़ की पूजा का विधान है। इसलिए इस दिन केला खाना वर्जित माना जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार केले के वृक्ष में भगवान विष्णु जी का वास होता है और, गुरुवार का दिन उन्हें ही समर्पित होता है।
    • गुरुवार के दिन पूजन के बाद बृहस्पति देव की व्रत-कथा जरूर सुननी चाहिए। इस व्रत से बृहस्पति भगवान प्रसन्न होकर मनोवांछित फल देते हैं।