हमारी सीमा में मारे गए चीनी सैनिक फिर सरकार ने कैसे कहा कि घुसपैठ नहीं हुई

    विदेश मंत्रालय (Ministry) की ओर से कहा गया था कि सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई लेकिन यदि ऐसी बात है तो भारत के 20 जवान कैसे शहीद (Indian Army) हुए और चीन के 40 से अधिक सैनिक कैसे मारे गए? यद्यपि चीन ने इतने दिनों बाद गलवान घाटी (Galwan Valley) में अपने सिर्फ 4 सैनिकों के मारे जाने की बात स्वीकारी लेकिन रूस ने यह आंकड़ा 45 बताया.

    कांटेदार तार लगे लाठी-डंडों से हमला और जमकर हाथापाई हुई थी. आस्ट्रेलिया के स्ट्रेटेजिक पॉलिसी इंस्टीट्यूट (Australian Strategic Policy Institute) के शोधकर्ता ने जियोलोकेटर्स के माध्यम से पता लगाया कि झड़पवाली जगह भारतीय सीमा के 50 मीटर अंदर थी. इसलिए चीनी सेना ने भारतीय इलाके में घुसकर हमला किया था जिसका हमारी सेना के वीर जवानों ने मुंहतोड़ जवाब दिया. यह भी सवाल है कि जब घुसपैठ नहीं हुई तो दोनों देशों के बीच फौज की वापसी पर कमांडर स्तरीय चर्चा के इतने दौर क्यों हुए?