कांग्रेस का हीरा BJP के किस काम का

    सक्रिय राजनीति से दूर हो चुकीं पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती (Uma Bharti) ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का उल्लेख करते हुए कहा कि कांग्रेस (Congress) ने अपना हीरा खो दिया. प्रश्न उठता है कि यदि यह हीरा बीजेपी के पास आ गया तो वह उसका क्या करने  जा रही है? मध्यप्रदेश के कमलनाथ (Kamal Nath Government) की सरकार गिराने तक ज्योतिरादित्य का उपयोग था. इसके बाद बीजेपी उन्हें क्या दे रही है? पार्टी ने उन्हें राज्यसभा सदस्य बना दिया लेकिन  यदि हीरे में इतनी चमक थी तो मोदी ने उन्हें केंद्र में मंत्री क्यों नहीं बनाया? कहते हैं- हीरे की परख जोहरी ही जानता है.

    उमा भारती को ज्योतिरादित्य के  रूप में कोहिनूर नजर आ रहा है. वैसे वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजयसिंह ने टिप्पणी की कि जब तक ज्योतिरादित्य कांग्रेस में थे, ‘महाराज’ कहलाते थे लेकिन अब वे बीजेपी में जाकर ‘भाई साहब’ बनकर रह गए. जब ज्योतिरादित्य ने मोदी की तारीफ में राज्यसभा में भाषण दिया तो दिग्विजयसिंह (Digvijay Singh) ने बधाई देते हुए कहा था कि ‘महाराज जय हो आपकी’. आप जितने अच्छे ढंग से पहले कांग्रेस का समर्थन करते थे उतना ही आज बीजेपी का कर रहे हैं.

    जहां तक ज्योतिरादित्य के हीरा होने की बात है, बीजेपी को देखना चाहिए कि वे कितने कैरेट के हैं. पार्टी उन्हें सम्मानपूर्वक टिकाए रखकर कह सकती है- हीरा है सदा के लिए! उमा भारती सन्यासिन हैं तो उनके पास भविष्य जानने की कोई सिद्धि जरूर होगी. उन्होंने भविष्यवाणी कर दी कि अगला लोकसभा चुनाव आते-आते कांग्रेस पार्टी में केवल राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और सोनिया गांधीही बचेंगी. बाकी के नेता यों तो घर बैठ गए होंगे या फिर जो इस लायक होंगे जिन्हें हम लेना चाहें, वे हमारी पार्टी में आ चुके होंगे. देखना है कि उमा भारती की यह दिव्य दृष्टि कितनी सही साबित होती है.