File Photo
File Photo

    मुंबई. मुंबई (Mumabi) का बेमौसम का मानसून (Monsoon) भारत (India) और न्यूजीलैंड (New Zealand) के बीच यहां होने वाले दूसरे क्रिकेट टेस्ट (2nd test match) के पहले दिन के खेल में खलल डाल सकता है और बारिश के कारण वानखेड़े स्टेडियम (Wankhede Stadium) की पिच के गेंदबाजों के अनुकूल होने की उम्मीद है। बुधवार को पूरे दिन बारिश के कारण दोनों टीमों को अपने ट्रेनिंग सत्र रद्द करने के लिए बाध्य होना पड़ा।

    गुरुवार को भी बारिश की भविष्यवाणी की गई है और आउटफील्ड गीली रहेगी। भारतीय टीम ऐसे में बांद्रा कुर्ला परिसर मैदान जाएगी जहां इंडोर अभ्यास की सुविधा है जबकि वानखेड़े स्टेडियम में ऐसा नहीं है। वानखेड़े स्टेडियम की पिच पर बिलकुल भी घास नजर नहीं आ रही है जिससे धीमे गेंदबाजों को मदद मिल सकती है।

    शुक्रवार से होने वाले टेस्ट में हालांकि वानखेड़े की पिच से तेज गेंदबाजों और स्पिनरों दोनों को मदद मिलने की उम्मीद है। लगातार बारिश के कारण पिच को ढककर रखा गया है जिसके कारण सतह के नीचे काफी नमी होगी। अतिरिक्त नमी से निश्चित तौर पर तेज गेंदबाजों को कानपुर से अधिक मदद मिलेगी लेकिन इस तरह के विकेट से स्पिनरों को भी काफी टर्न मिलेगा।

    शुक्रवार को बारिश की भविष्यवाणी है लेकिन दोनों टीमें विशेषकर भारत प्रार्थना करेगा कि दूसरे से पांचवें दिन मौसम का खलल नहीं हो। सभी की नजरें इस मैच के लिए भारतीय टीम के संयोजन पर भी टिकी हैं।

    अंतिम एकादश में कप्तान विराट कोहली की वापसी से मयंक अग्रवाल का बाहर होना लगभग तय है क्योंकि मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और गेंदबाजी कोच पारस महाम्ब्रे सहित सहयोगी स्टाफ ने अजिंक्य रहाणे का समर्थन किया है जो खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। गर्दन में जकड़न के कारण विकेटकीपर रिद्धिमान साहा बाहर हो सकते हैं और उनकी जगह श्रीकर भरत को पदार्पण कर मौका मिल सकता है। वह शुभमन गिल के साथ पारी का आगाज कर सकते हैं।

    तेज गेंदबाजी के अनुकूल हालात को देखते हुए मोहम्मद सिराज को इशांत शर्मा की जगह टीम में शामिल किया जा सकता है या फिर ये दोनों उमेश यादव के साथ तेज गेंदबाजी तिकड़ी बना सकते हैं और ऐसी स्थिति में अक्षर पटेल को बाहर बैठना होगा। (एजेंसी)