CHRIS-JORDAN
File Photo

    लंदन: इंग्लैंड के तेज गेंदबाज क्रिस जॉर्डन ने कहा कि उनके साथी वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 विश्व कप के अपने शुरुआती मैच में एक घुटने के बल बैठकर नस्ल विरोधी अभियान का समर्थन करने पर विचार कर रहे हैं। वेस्टइंडीज की टीम पहले ही पुष्टि कर चुकी है कि वह 23 अक्टूबर को होने वाले इस मैच में एक घुटने के बल पर बैठेगी जिसे नस्ल विरोधी अभियान के समर्थन का संकेत माना जाता है।

    इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने आखिरी बार अगस्त 2020 में आयरलैंड के खिलाफ वनडे मैच के दौरान ऐसा किया था लेकिन आगे ऐसा नहीं करने के उनके फैसले का वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने आलोचना की थी। जॉर्डन ने कहा कि वे इस महीने शुरू होने वाले टूर्नामेंट के दौरान फिर से एक घुटने के बल बैठने पर विचार कर रहे हैं। जॉर्डन ने ‘द टेलीग्राफ’ से कहा, ‘‘हम इस पर चर्चा करेंगे और अगर सभी इसके बारे में दृढ़ता से सोचते हैं, तो हम निश्चित रूप से ऐसा करेंगे। दूसरी तरफ, अगर हम ऐसा नहीं सोचते हैं, तो हम नहीं करेंगे।”

    वेस्टइंडीज के टी20 कप्तान कीरोन पोलार्ड ने पुष्टि की कि उनकी टीम प्रत्येक मैच की शुरुआत में एक घुटने के बल पर बैठेगी। उसका पहला मैच इंग्लैंड से होगा। पोलार्ड ने कहा, ‘‘जितना मैं जानता हूं, मुझे लगता है कि यह कुछ ऐसा है जिसे हम जारी रखेंगे क्योंकि यह ऐसा कुछ है जिस पर हम दृढ़ता से विश्वास करते हैं।” (एजेंसी)