Suresh Raina clarified on arrest at a Mumbai Club, said- 'Unintentional mistake'
File

    दुबई: भारत के पूर्व बल्लेबाज सुरेश रैना का मानना है कि संयुक्त अरब अमीरात में आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) खेलने का अनुभव विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम को आईसीसी टी20 विश्व कप में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ बहुप्रतीक्षित मैच में ‘बेहतर स्थिति’ में रहने में मदद करेगा। खिताब जीतने के प्रबल दावेदारों में से एक भारत रविवार को यहां पाकिस्तान के खिलाफ टी20 मुकाबले में अपने अभियान की शुरुआत करेगा। भारतीय टीम इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान से अभी तक एक बार भी नहीं हारी है। 

    रैना ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के लिए अपने कॉलम में लिखा, ‘‘ आईपीएल का शुक्रिया, हमारी टीम को यूएई में खेलने और वहां की परिस्थितियों से निपटने का बहुत अनुभव है जो उन्हें बेहतर स्थिति में रखेगा।”भारतीय टीम के पास युवा और अनुभव का अच्छा मिश्रण है और उनमें से कई अपने दम पर मैच जीतने में सक्षम हैं। रैना ने कहा, ‘‘ भारतीय दृष्टिकोण से अच्छी बात यह है कि विराट के साथ टीम में नेतृत्व क्षमता वाले रोहित शर्मा और रविंद्र जडेजा जैसे अनुभवी खिलाड़ी है । यह टीम को काफी मजबूत बनाते हैं।”

    भारतीय खिलाड़ी आईपीएल के दूसरे चरण में भाग लेने के बाद विश्व कप में खेलेंगे। भारत में कोविड-19 महामारी के कारण इसका आयोजन यूएई में किया गया था। रैना जानते हैं कि विराट कोहली और बाबर आजम दोनों कप्तान बहुत जज्बाती है और खुद शानदार प्रदर्शन की मिसाल पेश कर नेतृत्व करना पसंद करते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इस साल, यह रोमांचक होगा क्योंकि विराट कोहली और बाबर आजम दोनों ही अच्छे कप्तान हैं। दोनों इस मैच के महत्व को समझते हुए जुनून और जज्बे से भरे होगें।”

    उन्होंने कहा, ‘‘ बाबर टी20 अंतरराष्ट्रीय में दुनिया के शीर्ष बल्लेबाज है। कोहली की तरह उन्होंने भी साबित किया है कि शानदार बल्लेबाजी और कप्तानी एक साथ की जा सकती है। बाबर की मदद के लिए टीम में मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक जैसे अनुभवी खिलाड़ी मौजूद है।”रैना ने कहा, ‘‘एक तरफ विराट और दूसरे तरफ बाबर के होने से यह बहुत अच्छा मुकाबला होगा। वे दोनों वास्तव में प्रतिस्पर्धी खिलाड़ी  हैं जो जानते हैं कि प्रतिद्वंद्विता क्या है।”

    रैना खुद भी टी20 और एकदिवसीय विश्व कप में भारत-पाकिस्तान मैचों का हिस्सा रहे हैं।  उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान के खिलाफ मैचों में मेरा अनुभव यह रहा है कि उन्होंने हमेशा अपने दिल से खेला है।” उन्होंने कहा, ‘‘मैं 2014 और 2016 में उनके खिलाफ विश्व कप में खेला। अगर आप एक खिलाड़ी के तौर पर मुझसे पूछें तो यह हमेशा दबाव वाला मैच होता है।”(एजेंसी)