India’s Tour of SA Big dent to KL Rahul’s long-term captaincy ambitions, few careers near finishing line

यही वजह है कि, BCCI उनकी कप्तानी के गुर को लेकर संतुष्ट नहीं है, नाराज़ सा है।

    -विनय कुमार

    भारतीय टीम के गबरू जवान और जोशीले धाकड़ खिलाड़ी विराट कोहली (Virat Kohli) ने भारतीय टेस्ट टीम की भी कप्तानी छोड़ दी, जिसके बाद अब करीब-करीब यह तय माना जा रहा है कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ही टेस्ट टीम के नए कप्तान बनाए जाएंगे। हालांकि, केएल राहुल (KL Rahul) को लेकर भी कयास लगाए जा रहे थे। लेकिन, BCCI के एक ऑफिशल के  ताजा बयान से एक बात साफ हो गई है कि केएल राहुल ने फिलहाल टेस्ट टीम की कप्तानी के अवसर को आने से पहले ही गंवा दिया है। 

    गौरतलब है कि, साउथ अफ्रीका के दौरे में वनडे टीम के नए रेगुलर कप्तान रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में केएल राहुल को साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज के साथ टेस्ट सीरीज के एक मैच में रेगुलर कप्तान विराट कोहली की अनुपस्थिति में कप्तानी दी गई थी। लेकिन, उन 4 मैचों में उन्होंने एक भी जीत हासिल नहीं की। यही वजह है कि, BCCI उनकी कप्तानी के गुर को लेकर संतुष्ट नहीं है, नाराज़ सा है। और जो बयान उन्हें लेकर आया है यही इशारा समझ में आता है कि  फिलहाल केएल राहुल को भारतीय टीम की कप्तानी मिलना दूर की कौड़ी है।

    रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की फिटनेस उनके साथ-साथ टीम की ले बनाए रखने के लिए एक बड़ी समस्या है। चोट की वजह से कई मैचों से वो बाहर रहते हैं। यह एक बड़ी वजह कही जा रही है, जिसे लेकर टेस्ट टीम की कप्तानी की बागडोर उनके हाथ देने को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। केएल राहुल (KL Rahul) को टेस्ट टीम का नया कप्तान बनाने को लेकर पूछे गए एक सवाल पर BCCI के एक ऑफिशल ने कहा, “क्या आपको केएल राहुल किसी भी एंगल से कप्तान नजर आए।”

    गौरतलब है कि, बीते रविवार, 23 जनवरी को समाप्त हुए साउथ अफ्रीका दौरे में KL Rahul को एक टेस्ट मैच और 3 वनडे मैचों की पूरी सीरीज की कप्तानी का अवसर दिया गया था। लेकिन KL Rahul उस अवसर को एक कप्तान की हैसियत में भुनाने में असफल रहे। आपको याद दिला दें कि टेस्ट सीरीज के रेगुलर कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की अनुपस्थिति में सीरीज के दौरे मैच में केएल राहुल को कप्तान बनाया गया था। उस मैच में तो हार मिली ही, उसके बाद साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज में भी उनकी कप्तानी में भारत को 0-3 से हार का सामना करना पड़ा।