File Photo
File Photo

    -विनय कुमार

    BCCI की तरफ से तस्वीर साफ हो चुकी है कि ‘ICC T20 World Cup, 2021’ के बाद क्रिकेट की दुनिया में ‘The Wall’ के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) भारतीय क्रिकेट टीम के कोच का पद संभालेंगे। राहुल द्रविड़ जल्द ही नेशनल क्रिकेट एकेडमी (NCA) के चीफ के पद से इस्तीफा देंगे। गौरतलब है कि आज से लगभग एक महीने पहले उन्होंने यह कहते हुए टीम इंडिया के कोच के पद के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था कि वे NCA में ही रहना पसंद करेंगे।

    लेकिन BCCI के अध्यक्ष सौरव गागुंगी (Sourav Ganguly BCCI President) के राहुल द्रविड़ की तरफ से रखे गए तमाम शर्तों पर राजी होने के बाद उन्होंने टीम इंडिया का कोच बनना स्वीकार कर लिया है। अब जब राहुल द्रविड़ जैसी विराट शख्सियत आएगी, तो यकीनन फीस भी वैसी ही विराट होगी। खबरों के मुताबिक राहुल द्रविड़ को रवि शास्त्री (Ravi Shastri Coach Team India) से काफ़ी बड़ी फीस अदा की जाएगी। 

    राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) को कितनी फीस मिलेगी, बताने से पहले आपको यह बता दें कि उनसे पहले भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच को कितनी फीस मिली है। सबसे पहले बात की जाए आज से करीब 18 साल पहले भारत की टीम से जुड़े 2003 के करीब जॉन राइट (John Right) की। उस वक्त BCCI ने जॉन राइट को सालाना 1 करोड़ रुपए की फीस दी थी।

    उनके बाद ग्रेग चैपल (Greg Chappell) आए, जिनकी सालाना फीस सवा करोड़ रुपये थी। चैपल के बाद 2011 में ‘ICC ODI WORLD CUP’ वर्ल्ड कप जिताने वाले गैरी कर्स्टन (Garry Kirsten) का नंबर आता है। गैरी कर्स्टन को BCCI की तरफ से सालाना 2.5 करोड़ रुपए की फीस दी गई। ये रकम उनसे पहले टीम इंडिया के कोच रहे  ग्रेग चैपल से 101.6 प्रतिशत अधिक थी।

    चैपल के बाद भारतीय टीम के कोच बने  डंकन फ्लेचर (Duncan Fletcher) को  4.2 करोड़ रुपए की शानदार बड़ी रकम दी गई। हालांकि, अनिल कुंबले (Anil Kumble) का कार्यकाल बहुत ही छोटा था, लेकिन कुंबले को BCCI ने सालाना 6.25 करोड़ रुपए की सैलरी तय की थी। लेकिन, अनिल कुंबले और टीम इंडिया के एंग्री यंग मैन कप्तान विराट कोहली के बीच ठन जाने की वजह से उनकी कुर्सी चली गई। 

    अनिल कुंबले (Anil Kumble) के बाद टीम इंडिया के पूर्व ऑल राउंडर रवि शास्त्री (Ravi Shastri) आए, जो कमेंट्री भी किया करते थे। कमेंट्री छूटने से होने वाले नुकसान की रकम की अदायगी भी BCCI ने उनको किया। रवि शास्त्री का बतौर टीम इंडिया का कोच सालाना फीस 10 करोड़ रुपए थी। 

    सूत्रों के मुताबिक, अब टीम इंडिया के कोच के तौर पर जुड़ने पर राहुल द्रविड़ ,(Rahul Dravid) को भी BCCI की तरफ से सालाना 10 करोड़ रुपए की सैलरी दी जाएगी। यही नहीं, इसके अलावा उन्हें बेहतरीन प्रदर्शन के लिए परफॉरमेंस बोनस (performance bonus) भी दिया जाएगा। खबर ये भी है कि राहुल द्रविड़ के साथ, उनके साथ बेंगलुरू स्थित ‘नेशनल क्रिक्रेट एकेडमी’ में काम करने वाले गेंदबाजी पारस म्हांब्रे (Paras Mhambre) की भी टीम इंडिया की बॉलिंग कोच की नियुक्ति करीब-करीब तय है।