virat-kohli
File Photo

    विनय कुमार

    टीम इंडिया के पूर्व धांसू कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) से उनके चाहने वाले सेंचुरी की उम्मीद लगाए बैठे हैं। ऐसे में अब तो लोग यह कहते देखे सुने जा रहे हैं कि सेंचुरी छोड़िए, पहले अब विराट कोहली अपने खेल में बढ़िया प्रदर्शन करने पर ध्यान दें। फिर भी, कुछ अच्छा नहीं हो रहा है। लगता है किस्मत उनका साथ नहीं दे रही है।

    वेस्ट इंडीज के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज के तीसरे और अंतिम मुकाबले में आज शुक्रवार, 11 फरवरी को अहमदाबाद के ‘नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम’ में बल्लेबाज़ के बड़े लोहार माने जाने वाले सुनार का हथौड़ा भी नहीं चला सके। आज विराट कोहली डक (शून्य) पर आउट हो गए। उनके आउट होने के बाद भारत के पूर्व कप्तान और दुनिया के महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar)  होने के बाद भारत के पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने विराट कोहली को नसीहत दे डाली।

    सुनील गावस्कर ने विराट कोहली को सलाह दी है कि उन्हें सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar God of Cricket) के पास जाना चाहिए। गौरतलब है कि पूर्व कप्तान विराट कोहली इस साल, यानी 2022 में अब तक खेले 6 वनडे मुकाबलों में 2 बार बिना खाता खोले आउट हुए हैं। 

    आज सीरीज के आखिरी मैच में भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी के लिए मैदान में उतरी। एक मौका ऐसा आया जब विराट कोहली (Virat Kohli) को वेस्ट इंडीज़ के घातक गेंदबाज अल्जारी जोसेफ (Alzarri Joseph) ने चौथे ओवर की 5वीं गेंद पर शाई होप (Shai Hope) के हाथों कैच लपका दिया। विराट लेग साइड जाती हुई गेंद को शॉट लगाने निकले। लेकिन, गेंद बल्ले का किनारा चूमते हुए पीछे निकल गई और धर लिए गए। कैच कर लिए जाने के बाद विराट कोहली के चेहरे पर निराशा की साफ झलक थी।

    गौरतलब है कि, इससे पहले वाले मैच, यानी सीरीज के दूसरे मैच में विराट कोहली  ओडियन स्मिथ (Odean Smith) की गेंद का शिकार हो गए थे। अंतरराष्ट्रीय वनडे क्रिकेट का इतिहास बताता है कि विराट कोहली (Virat Kohli) जुलाई 2015 के बाद पहली बार किसी ODI Series में एक भी हाफ सेंचुरी 50 या इससे ज्यादा रन नहीं बना पाए हैं। ठीक यही हाल जून 2015 में बांग्लादेश के खिलाफ खेली गई वनडे सीरीज (Bangladesh vs India ODI Series, 2015 Virat Kohli) में उनका था। उस सीरीज में भी उनके बल्ले से एक भी 50 नहीं निकली थी। 

    सुनील गावस्कर का कहना है कि कोई भी बल्लेबाज़ इतना अनलकी कैसे हो सकता है। उन्होंने ‘Star Sports’ पर  कहा “जोसफ की गेंद को कोहली (Virat Kohli) अगर नहीं छेड़ते, तो वह वाइड जा सकती थी। लेकिन, लेग साइड में खेलने की कोशिश में वे अपना विकेट गंवा बैठे।” 

    क्रिकेट की दुनिया के भीष्म पितामह सुनील गावस्कर विराट कोहली को ‘क्रिकेट के भगवान’ कहे जाने वाले महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर (Sachin Tendulkar) की शरण में इसलिए जाने की सलाह दे रहे हैं, क्योंकि, अपने करियर के दौरान सचिन तेंडुलकर भी इस समस्या से गुजर चुके हैं।