Ravi Shastri
File Photo

    -विनय कुमार

    कुछ दिन पहले टीम इंडिया न्यूजीलैंड के दौरे पर थी। जिसमें भारत और न्यूजीलैंड के बीच (New Zealand vs India T20 ODI Series, 2022 India on New Zealand Tour) व्हाइट बॉल सीरीज खेली गई। 3-3 मैचों की T20I Series और वनडे सीरीज खेली गई। T20I Series में भारत ने 1-0 से सीरीज जीती और न्यूजीलैंड ने 1-0 से वनडे सीरीज अपने नाम किया। हालांकि, 2 वनडे मैच बारिश ने दो दिया। एक में ही नतीजा आया था। वनडे सीरीज में दो खिलाड़ी आंखों का सितारा बनकर सामने आए।

    टीम इंडिया के पूर्व कोच और मौजूदा कमेंटेटर रवि शास्त्री (Ravi Shastri) के मुताबिक, वनडे सीरीज में शुभमन गिल की बैटिंग और उमरान मलिक की बोलिंग में टीम अभी भी 3 पारियों से काफी सकारात्मक सीख ले सकती है। 

    गौरतलब है कि बीते बुधवार क्राइस्टचर्च में वनडे सीरीज के आखिरी मैच के रद्द हो जाने के बाद न्यूजीलैंड ने इस सीरीज को 1-0 से जीत लिया। हैमिल्टन में निर्धारित सीरीज का दूसरा मैच जोरदार बारिश के कारण शुरू भी नहीं हुआ। लेकिन, जब भी  बारिश दूर रही, गिल, श्रेयस अय्यर, वाशिंगटन सुंदर और उमरान जैसे खिलाड़ियों ने रवि शास्त्री को आकर्षित किया। रवि शास्त्री ने अपने एक बयान में कहा, “मेरा मानना है कि इस वनडे सीरीज (New Zealand vs India ODI Series, 2022) से काफी पॉजिटिविटी आई है। श्रेयस अय्यर बढ़िया रन बना रहे हैं। यकीनन सूर्यकुमार यादव के पास कैपेसिटी है, टैलेंट है और वह प्रदर्शन करेंगे।”

    रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने आगे कहा, “वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) ने शानदार खेल दिखाया। उमरान मलिक की बोलिंग मुझे पसंद आई। उनके अंदर काबिलियत है। यदि वे और धारदार बन सकें, तो बढ़िया होगा। शुभमन गिल (Shubman Gill) ने अच्छी पारियां खेली। परिस्तिथियां कठिन थीं, लेकिन ये परिस्थितियां अक्सर नहीं मिलती हैं।

    और, न्यूजीलैंड का दौरा करना युवा खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन अनुभव कहा जाना चाहिए। न्यूजीलैंड का यह दौरा टीम इंडिया के ऑल राउंडर वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) के लिए बड़ा फायदेमंद रहा। गौरतलब है कि इससे पहले वे इंजरी की वजह से विदेश दौरा मिस कर गए थे। सीरीज के पहले मुकाबले में उन्होंने हेगले ओवल मैदान की मुश्किल परिस्थितियों में 64 गेंदों में 51 रनों की सधी हुई पारी खेली थी।”

    रवि शास्त्री ने कहा कि उन्होके इस मौके को दोनों हाथों से भुनाया और बल्लेबाज़ी में मैच्योरिटी दिखाई।उनका फुटवर्क बड़ा सकारात्मक था। उन्होंने कठिन परिस्थितियों में बढ़िया बल्लेबाज़ी की थी।