delhi
Pic :ANI

    नई दिल्ली. बीते शुक्रवार जहाँ दिल्ली (Delhi) में मुंडका मेट्रो स्टेशन (Mudka Metro Station)के पास तीन मंजिला कॉमर्शियल बिल्डिंग में भयनकर आग लग गई थी। वहीँ इस हादसे में अब तक 27 लोगों की जलकर मौत हो गई। साथ ही मृतकों में दमकल विभाग के दो कर्मचारी भी शामिल हैं। 12  लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं। इधर पुलिस ने त्वरित कार्यवाई करते हुए इमारत के मालिक हरीश गोयल और वरुण गोयल को हिरासत में ले लिया है। साथ ही रात को NDRF की टीम भी मौके पर पहुंच गई है।

    हालंकि इस आग की सुचना बीते 4.40 बजे मिली थी। करीब 7 घंटे बाद आग पर काबू पा लिया गया। हालांकि देर रात 12 बजे तह यह आग फिर से धधकने लगी। तब दमकल कर्मियों ने मौके पर पहुंचकर खिड़कियां तोड़ी और बिल्डिंग के अंदर फंसे लोगों को बचाया।  वहीँ दिल्ली पुलिस ने घटनास्थल से संजय गांधी मेमोरियल हॉस्पिटल तक ग्रीन कॉरिडोर बना दिया है, ताकि घायलों को तेजी से अस्पताल तक पहुंचाया जा सके।

    इधर दिल्ली के एस.पी. तोमर, दिल्ली सिविल डिफेंस ने बताया कि , “हम लोगों ने हेल्प डेस्क की शुरूआत इसलिए की है ताकि जिन लोगों के परिजन गायब हैं या फिर घायल हैं, उनको सही जानकारी मिल सके और वे परेशान ना हो।” फिलहाल बचाव कार्य जोरो पर है।

    वहीँ सिविल डिफेंस ने बताया कि, “हमारी जानकारी के मुताबिक अभी तक 28 लोग गायब हैं, जिसमें 5 पुरुष और 23 महिलाएं हैं। हम गायब लोगों की पूरी जानकारी ले रहे हैं। हमने लोगों को हेल्पलाइन नंबर दिया है। कोई भी जानकारी आने पर उनको तत्काल सूचित किया जाएगा।”

    इधर विकाश सैनी असिस्टेंट कमांडेंट NDRF ने भी जानकारी देते हुए कहा कि, “हमारी टीम रात 11:30 बजे के आसपास घटनास्थल पर पहुंच गई थी। पहले यहां सर्च अभियान में काफी समस्या हो रही थी। आग पर काबू पा लिया गया था परन्तु दीवारों और छत से जो पानी टपक रहा था वो काफी गर्म था, अब सर्च करने में कोई समस्या नहीं आ रही। सतह पर तो हमने तीनों फ्लोर पर सर्च कर लिया है, परन्तु पूरी तरह से दूसरी मंजिल पर एक साइड से सर्च की कार्रवाई जारी है। दूसरी मंजिल पर हमें बॉडी के छोटे-छोटे 7-8 पार्ट मिले हैं। लगभग 4-5 घंटे में सर्च का काम पूरा हो जाएगा।”

    कुछ ख़ास बातें 

    • इस तीन मंजिला इमारत में पहली मंजिल पर मैन्युफैक्चरिंग युनिट थी.
    •  दूसरी मंजिल पर वेयर हाउस और तीसरी पर लैब थी. वहीँ सबसे ज्यादा मौत अब तक दूसरी मंजिल पर बताई गई है.
    • हादसे के वक्त दूसरी मंज़िल पर मोटिवेशनल स्पीच चल रही थी. इस कार्यक्रम के चलते वहां ज्यादा लोग मौजूद थे. 
    • बिल्डिंग की छत पर मकान मालिक ने अपना एक छोटा सा फ्लैट बनाकर रखा था.
    • इधर फायर विभाग और NDRF ने सुबह  दोबारा से अपना सर्च ऑपरेशन शुरू किया है.
    • बिल्डिंग में अभी भी तीन-चार लोगों के अभी फंसे होने की आशंका है.
    • कंपनी के मालिकों-हरीश गोयल और वरुण गोयल को गिरफ्तार कर लिया गया है.
    • हालांकि मकान मालिक फरार है. उसकी पहचान मनीष लाकरा के रूप में हुई है. 
    • सबसे ऊपर वाले तल पर रहता था. उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

    इधर मामले पर दिल्ली पुलिस ने बताया कि मेट्रो स्टेशन के पिलर 544 के पास बनी यह इमारत एक 3 मंजिला कॉमर्शियल बिल्डिंग है, जिसे ऑफिस स्पेस के तौर पर कंपनियों को किराए पर दिया जाता है। इस इमारत की फायर NOC भी नहीं थी। 

    वहीँ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आग लगने से हुई लोगों की मौत पर शोक जताया है. इसके साथ ही CM अरविन्द केजरीवाल भी लगातार अधिकारियों से सीधे संपर्क में हैं।