दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Photo Credits-ANI Twitter)
दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: देश में अप्रैल महीने की शुरूआत में कोरोना (Coronavirus Pandemic) की दूसरी लहर के तेज होने के चलते स्कूल-कॉलेजों (Delhi Schools Reopening) को बंद कर दिया गया था। लेकिन बाद में धीरे-धीरे हालात ठीक होने के बाद सभी राज्यों ने अपने हिसाब से फैसला लेते हुए स्कूल-कॉलेजों को फिर से खोल दिया है। हालांकि दिल्ली में स्कूल-कॉलेज खोलने को लेकर अब तक निर्णय नहीं लिया गया है। इसी बीच दिल्ली सरकार ने स्कूल-कॉलेज (School-College) खोलने को लेकर छात्रों और माता-पिता से सुझाव मांगें हैं। मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि इसके बाद सरकार स्कूल-कॉलेज खोलने का निर्णय लेगी। 

    ज्ञात हो कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने स्कूल-कॉलेजों को खोलने को लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि स्कूल और कॉलेज खोलने से पहले मैं छात्रों, प्रिंसिपल, शिक्षकों और माता-पिता से पूछना चाहता हूं कि क्या अब हमें स्कूल और कॉलेज खोल देना चाहिए? अगर खोलना चाहिए तो आपके इस पर क्या सुझाव हैं? 

    मनीष सिसोदिया का बयान-

    सिसोदिया ने कहा कि आप अपने सुझाव ‘delhischools21@gmail.com’ पर भेज सकते हैं। आपके सुझाव के आधार पर हम निर्णय लेंगे। इससे पहले सीएम अरविंद केजरीवाल ने एक बयान में कहा था कि दिल्ली में स्कूल खोलने की आदर्श स्थिति तब बनेगी जब अधिकतर लोगों को वैक्सीन लग जाएगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि दिल्ली सरकार जल्दबाजी में कोई फैसला नहीं लेने वाली है।