The body of a woman missing for three days was found in the pond
file photo

    बेटों को कुएं में फेंकने के बाद 35 वर्षीय एक व्यक्ति ने की खुदकुशी देवास,  मध्यप्रदेश के देवास जिले में 35 वर्षीय एक व्यक्ति ने पत्नी के घर छोड़कर मायके जाने से कथित तौर पर परेशान होकर अपने दो नाबालिग बेटों को बृहस्पतिवार को कुंए में फेंक दिया और फिर घर आकर खुद को आग लगाकर आत्महत्या कर ली। बरोठा पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक शैलेंद्र मुकाती ने बताया कि यह घटना बृहस्पतिवार सुबह तौला पुरा गांव में हुई।

     मुकेश रावत ने पहले अपने 10 साल और सात साल के बेटों को कुंए में फेंका और फिर घर पहुंचकर अपने भाई को इस बारे में बताया। इसके बाद उसका भाई तुरंत कुए पर पहुंचा और ग्रामीणों की सहायता से दोनों लड़कों को कुंए से बाहर निकाला लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। इस बीच, घर पर मुकेश ने अपने ऊपर पेट्रोल डालकर खुद को आग लगा ली, जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। 

    अधिकारी ने बताया कि,  मुकेश शराब पीने का आदी था और उसका अपनी पत्नी से अक्सर इसको लेकर झगड़ा होता रहता था। इस कारण उसकी पत्नी कुछ समय पहले पति और बच्चों को छोड़कर अपने मायके चली गई थी। इससे मुकेश परेशान रहने लगा था। उन्होंने बताया कि पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है।