महानगरपालिका कमिश्नर पांडेय ने पेयजल आपूर्ति की समस्याओं से नागरिकों को राहत देने का उठाया बीड़ा

    औरंगाबाद : शहर के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे महानगरपालिका कमिश्नर आस्तिककुमार पांडेय (Municipal Commissioner Astik Kumar Pandey) ने गत एक महीने से शहर के कुछ इलाकों में निर्माण पेयजल (Drinking Water) आपूर्ति (Supply) की समस्याओं से नागरिकों को राहत पहुंचाने का बीड़ा उठाया है। उन्होंने महानगरपालिका के अन्य विभाग के अधिकारियों (Officers) और  कर्मचारियों (Employees) को पेयजल समस्याओं का हल निकालने के लिए नियुक्त किया है। वहीं, स्मार्ट सिटी (Smart City) कार्यालय में 24 घंटे कार्यरत वॉर रुम (War Room) स्थापित करने के अलावा 10 सूत्री कार्यक्रम पर अमली जामा (Implementation Jama) पहनाने का निर्णय लिया है। इसके अलावा हर प्रभाग के लिए अभिभावक अधिकारी के नियंत्रण में 9 दलों का गठन किया है। साथ ही विविध सरकारी कार्यालय के 8 निवृत्त अधिकारियों की ठेका पद्धति पर नियुक्ति भी की गई है। 

    शहर में निर्माण हो रही पानी की किल्लत दूर करने हेतु  महानगरपालिका कमिश्नर आस्तिककुमार पांडेय ने एक बैठक ली। बैठक के बाद पांडेय ने बताया कि पेयजल विभाग को तीन के बजाए 4 उपअभियंता दिए गए है। साथ ही ढोरकीन पंप हाउस पर बुस्टर (Buster) बिठाने का प्रस्ताव दिया गया। नौ विभाग के लिए नौ दलों की नियुक्ति की गई। साथ ही हर विभाग को एक उपअभियंता (Deputy Engineer) देने का निर्णय लिया गया। हर दल को उपायुक्त संतोष टेंगले और कार्यकारी अभियंता हेमंत कोल्हे मार्गदर्शन करेंगे। जायकवाडी से नक्षत्रवाडी तक पेयजल आपूर्ति नियंत्रण रखने के लिए दो अधिकारी देखरेख करेंगे। पेयजल आपूर्ति की समय सारणी तैयार करना, पानी के लिकेजेस रोकने की जिम्मेदारी उपायुक्त अपर्णा थेटे को सौंपी गई है। उनके नेतृत्व में एक दल का गठन इसके नियुक्त किया गया है। हर्सूल के इनलेट लाईन की जांच कर बाधाएं दूर किए गए। जिससे जलशुध्दीकरण केन्द्र (Water Purification Center) में आनेवाली पानी में वृध्दि होने का दावा पांडेय ने किया। 

    एसटीपी के पानी का इस्तेमाल 

    निर्माण कार्य के लिए मलजल प्रक्रिया केन्द्र से पानी आपूर्ति करने के लिए सेवानिवृत्त अधिकारी अफसर सिद्दीकी के पास जिम्मेदारी सौंपी गयी है। साथ ही कुओं को अधिग्रहण करने के लिए पत्र भेजे जाएंगे। जीवन प्राधिकरण के कार्यकारी अभियंता अजयसिंह, शहर अभियंता सखाराम पानझडे पर यह जिम्मेदारी सौंपी गयी है। शिवाजी नगर, सुतगिरणी, पुंडलीकनगर, ज्यूबली पार्क, वेदांत नगर के पानी की टंकियों पर नागरी मित्र दल के पूर्व सैनिक पेयजल आपूर्ति के दिन उपस्थित रहेंगे। 

    24 घंटे कार्यरत रहेंगा वॉर रुम 

    24 घंटे कार्यरत रहेंगा वॉर रुम से पेयजल आपूर्ति की समय सारणी पर अमली जामा पहनाना, पानी की टंकी पर सीसीटीवी से निगराणी, शिकायतों का निपटारा करना, आईवीआर हेल्पलाईन चलाना। फैज अली को वॉर रुम का प्रभारी नियुक्त किए जाने की जानकारी महानगरपालिका कमिश्नर आस्तिककुमार पांडेय ने दी।