The group of thieves who broke into the houses exposed, 28 cases of theft exposed

    औरंगाबाद. जिले में पिछले कई माह से घरों में सेंधमारी कर ग्रामीण पुलिस को चुनौती दे रहे चोरों के टोली का पर्दाफाश करने में ग्रामीण एसपी कार्यालय की  क्राइम ब्रांच पुलिस  कामयाब हुई हैं। पुलिस ने टोली के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर उनसे चोरी के 28 मामले उजागर करने में कामयाबी हासिल करते हुए उनसे चोरी किया हुआ करीब साढ़े तीन लाख रुपए से अधिक का  माल जब्त  किया। पकड़े गए चोरों के टोली  के दोनों सदस्यों की पहचान संजय मारुति शिंदे और  रामा अण्णा पवार के रुप में की गई है। पुलिस ने टोली के अन्य चार सदस्यों के तलाशी में जूटी है।

    औरंगाबाद ग्रामीण के एसपी निमित गोयल ने आयोजित पत्रकार परिषद में बताया कि 10 अक्टूबर की रात जिले के फुलंब्री थाना के किनगांव निवासी काकासाहाब भिकन चव्हाण और  निकट के कई घरों में  अज्ञात चोरों ने सेंधमारी कर करीब 1 लाख रुपए का माल चुराया था। जिसमें गहने और  अन्य माल शामिल था। इस घटना को लेकर फुलंब्री थाना में मामला दर्ज कर ग्रामीण पुलिस ने जांच शुरु की। ग्रामीण क्षेत्रों में आए दिन बढ़ती चोरी के मामलों को रोकने के लिए एसपी निमित गोयल ने इन घटनाओं की अतिरिक्त जांच क्राइम ब्रांच पुलिस को सौंपी।

    क्राइम  ब्रांच पुलिस ने जांच में पाया कि किनगांव में हुए चोरियों में जालना जिले के भोकरदन निवासी संजय मारुति शिंदे और राणा अण्णा पवार और उनके टोली का हाथ है। इसी जानकारी पर पुलिस ने चोरों की उन टोली के दो सदस्यों को  अपने कब्जे में लेकर पूछताछ करने पर उन्होंने अपने चार साथियों के साथ जिले में कई स्थानों पर घरों में सेंधमारी करने की  बात कबूली। 

    28 चोरी के मामलेे उजागर 

    एसपी गोयल ने बताया कि चोरों के टोली के दो सदस्यों को गिरफ्तार करते ही उन्होंने जिले के खुलदाबाद थाना क्षेत्र में 6, गंगापुर थाना क्षेत्र में 4, पिशोर थाना क्षेत्र में 2, फुलंब्री थाना क्षेत्र के 2, वडोदबाजार थाना क्षेत्र के 2, चिकलथाना क्षेत्र के 2,  देवगांव रंगारी क्षेत्र के 2, करमाड थाना क्षेत्र में 2,  कन्नड शहर, सिल्लोड शहर, पैठण, वैजापुर , शिउर और सोयगांव थाना क्षेत्र में प्रति एक इस तरह 28 घरों में सेंधमारी कर लाखों रुपए का माल चुराने की बात कबूली। पुलिस ने चोरों की इस टोली से 3 लाख 30 हजार 43 रुपए के सोने-चांदी के आभूषण, 14 हजार रुपए नकद, 19 हजार रुपए कीमत के दो मोबाईल हैंडसेट, लोहे के कटर  इस तरह करीब 3 लाख 63 हजार 43 रुपए का माल जब्त  किया। 

    आगे की कार्रवाई के लिए चोरों की टोली के सदस्यों को  फुलंब्री पुलिस के हवाले किया गया। यह कार्रवाई एसपी निमित गोयल, अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. पवन बनसोड के मार्गदर्शन में ग्रामीण क्राइम ब्रांच के पीआई संतोष खेतमालस, पीएसआई विजय जाधव, प्रदीप ठुबे, हेड कांस्टेबल नामदेव सिरसाठ, संजय देवरे, विठठल राख, बालू पाथ्रीकर, श्रीमंत भालेराव, किरण गोरे, पुलिस नाईक वाल्मिक निकम, राहुल पगारे, शेख नदीम, शेख अख्तर, कांस्टेबल बाबासाहाब नवले, ज्ञानेश्वर मेटे, योगेश तरमाले, जीवन घोलप ने पूरी की।