प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

    • लाखनी की घटना

    लाखनी. शहर में दुर्घटनाओं का प्रमाण बडे पैमाने पर बढने से पिछले दो तीन वर्ष से जेएमसी कंपनी द्वारा उड्डाण पुल  का निर्माण काम शुरू है. इस उडान पुल के काम पर लैब टेक्निशियन के तौर पर कार्यरत होनेवाले 45 वर्षीय मजदूरों ने मानसिक परेशानी से तंग आकर जहर पिकर आत्महत्या करने की घटना शहर के श्रीनगर परिसर में होनेवाले उसके निवासस्थान में घटीत हुई. 

    विकास जयचंद जैन (45) लाखनी व पैतुक गाव कांधला जि. तांबली (उत्तर प्रदेश) ऐसा आत्महत्या करनेवाला मृतक का नाम है. मृतक विकास जैन यह उडाण पुल निर्माण काम करनेवाले जेमएसी कंपनी में लैब टेक्निशियन के तौर पर पिछले एक वर्ष से कार्यरत है. मृतक विकास को दो पत्नी थी व दोनों ने ही छोडा था. 

    जिससे वह हमेशा मानसिक परेशानी रहता था. मानसिक परेशानी से तंग आकर शहर के श्रीनगर परिसर के अपने निवासस्थान में ही जहर पिकर आत्महत्या की.  

    लाखनी पुलिस ने प्रदीप कुमार जयचंद जैन की शिकायत पर से मामला दर्ज किया होकर घटने की आगे की जांच सहायक फौजदार देविदास बागडे व पुलिस शिपाई संदीप वाघ कर रहे है.