भ्रष्टाचार के खिलाफ आम आदमी पार्टी का जन आंदोलन

    • आंदोलन के दौरान भ्रष्टाचार की निकाली शवयात्रा 

    चंद्रपुर. आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को चंद्रपुर में सड़कों की खराब स्थिति, मनपा में भ्रष्टाचार और पेट्रोल-डीजल की दरों में वृद्धि के खिलाफ जन आंदोलन का आयोजन किया. आप के जिलाध्यक्ष सुनिल मुसले के नेतृत्व में शहर सचिव राजु कुडे के नेतृत्व में जूनोना चौक से गांधी चौक मनपा तक आक्रोश मोर्चा निकाला गया. आंदेालन के दौरान भ्रष्टाचार की शवयात्रा निकाली गई. 

    मनपा में 200 करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार, अमृत योजना के नाम पर सडकों की दुर्दशा की गई है उसे जल्द से जल्द सुधारने, पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ते दाम पर रोक लगाने, राज्य सरकार ने पेट्रोल व डिजल के दामों के टैक्स में छुट देकर लोगों को राहत देने की मांग की है. 

    केंद्र में मोदी सरकार सत्ता में आई तो कच्चे तेल की कीमत 105 रुपये प्रति बैरल थी.  जबकि देश में पेट्रोल की कीमत 72 रुपये प्रति लीटर थी. अब कच्चे तेल की कीमत 8 85 रुपये प्रति बैरल है जबकि पेट्रोल 50 रुपये और डीजल 40 रुपये है. पेट्रोल व डिजल की महंगाई से आम जनता त्रस्त हो रही है. चंद्रपुर नगरपालिका के प्रशासन ने  लोगों की जान पर भारी पड़ रही है. चंद्रपुर शहर में गड्डे व भ्रष्टाचार से व्याप्त भाजपा सरकार का विरोध करते हुए आम आदमी पार्टी (आप) ने पूरे चंद्रपुर शहर को भ्रष्टाचार की प्रतिकात्मक शवयात्रा निकाली. 

    आप के नगर सचिव राजू शंकरराव कुडे ने बताया है कि यदि आंदोलन की सभी मांगों को तत्काल स्वीकार नहीं किया गया तो लोगों के साथ इसी तरह का आंदोलन किए जाने की जानकारी दी. 

    आंदोलनन में जिलाध्यक्ष सुनील मुसले, नगर सचिव राजू शंकरराव कुडे, युवा अध्यक्ष मयूर रायकवार, जिला सचिव संतोष दोरखंडे, जिला ऑटो रिक्शा अध्यक्ष शंकर धूमाले, जिला सोशल मीडिया प्रमुख राजेश चेडगुलवार, कोषाध्यक्ष भिवराज सोनी, घुग्गस नगर अध्यक्ष अमित बोरकर, बल्लारपुर नगर कोषाध्यक्ष आसिफ भाई, भद्रावती नगर सचिव सुमित हस्तक, बल्लारपुर नगर सचिव ज्योति बाभरे, चंदू मदुरवार, रवींद्र रामटेके, सागर बिरहाड़े, अभिषेक सपडी, आशीष पजारे, उमेश कडू, शमशेर चव्हाण, दिनेश लिपाने, निखिल बरसागड़े, अनूप तेलतु कांबले, चन्ने, अजय दुकारे, सुनील पचारे, मयूरी रायपुरे, शाहरुख शेख, कालिदास ओर्के, आशा कदम, दुर्गा शेंडे, सलमा सिद्दीकी, सीमा लोहरे, मीना केशकर, सरिता गुर्जर, रुबीना शेख, आशा नीपने, शंकर निखाड़े, जयदेव देवगड़े, आदि उपस्थित थे.