ग्रामीणों ने किया ग्रापं के सामने जनआंदोलन, आदिवासियों की दफनभुमि का अतिक्रमण हटाने की मांग

    चामोर्शी. चामोर्शी तहसील के आमगांव म. स्थित सर्वे क्रं. 450 आराजी हे. आर. में से 0.40 हे. आर. प्रचलित आदिवासी दफनभुमि की जगह आरक्षित है. कुछ वर्षो से स्थानीय ग्रापं के उपसरपंच विनोद शेंगर व जयसिंग शेंगर ने उक्त जगह पर अतिक्रमण किया है. पिछले चार वर्षो से अतिक्रमण हटाने संदर्भ में प्रशासन को पत्र देने के बाद भी इस मामले की ओर अनदेखी की जा रही है. आखिरकार सैकड़ों आदिवासी बांधवों की उपस्थिति में सोमवार को ग्राम पंचायत कार्यालय के सामने जनआंदोलन किया गया. 

    उक्त जगह आदिवासियों की मालिकाना होने से आदिवासी समाज के लोग उक्त जगह पर पिछले अनेक वर्षो से दफन कार्य कर रहे है. वहीं इस जगह संदर्भ में 30 नवंबर 2021 को सरपंच जोत्सना गव्हारे  की अध्यक्षता में ग्रामसभा का आयोजन किया गया था. आदिवासी के आवेदन का वाचन किया गया. सर्वे क्रं. 450 आराजी 2.21 हे. आर. में से सातबारह व निस्तारपत्रक पंजीयन नुसार 0.40 हे. आर. जगह पशु शल्यक्रिया व इसमें से 00.10 आर जगह जलसंपदा जल मापण केंद्र की इमारत निर्माण व शेष 0.30 आर जगह आदिवासी दफनभुमि के लिये आरक्षित है. उक्त जमीन पर जयसिंग सेंगर का अतिक्रमण होने से सर्वे क्र. 450 जमीन की गिनती करने के लिये  खर्च ग्रामनिधि से देने की बात कही गई थी.

    जिसके नुसार कार्रवाई करने का प्रस्ताव पारित किया गया था. उक्त व्यक्ति उक्त जगह पर अतिक्रमण कर हडपने का प्रयास कर रहा है. उक्त जगह पर खेती न करें, खेतीकार्य किए जाने पर आदिवासी समाज द्वारा रोका जाएगा. ऐसी चेतावनी ज्ञापन के माध्यम से दी गई थी. लेकिन अब तक उक्त जगह का अतिक्रमण नहीं हटाए जाने के कारण आदिवासी समाज बांधवों ने अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर सोमवार को ग्रापं कार्यालय के सामने आंदोलन किया.

    इस आंदोलन में सामाजिक कार्यकर्ता प्रमिला बैस, मंगला कलयामी, कल्पना कलयामी, कमला नरोटे, गीता नरोटे, भाविका देवलते, विमला रायसिडाम, प्रेमिला नरोटे, सिंधु वाडवे, लिता तोरे, मेथा गावड़े, कुसुम गोटा, लक्ष्मी गोटा, तारा दुर्वे, शरद कलयामी, बंडु मड़ावी, वारलु नरोटे, मोरेश्वर मेश्राम, वासुदेव नैताम, रवींद्र गेड़ाम, अशोक नरोटे, प्रमोद कोडापे, सुरेश मेश्राम, प्रभाकर वेलादी, पांडुरंग गोटा, सचिन दुर्वे, देवराव मड़ावी, आकाश नरोटे समेत सैकड़ों आदिवासी बांधव उपस्थित थे.

    अधिकारियों ने दी आंदोलनस्थल को भेट

    आंदोलन के दौरान चामोर्शी पंचायत समिति के सहायक गटविकास अधिकारी बी. बी. वनखेड़े, पंचायत विस्तार अधिकारी मधुकर कालबांधे, भाडभिड़ी के क्षेत्र सहायक चांदेकर, वनरक्षक लांजेवार, मंडल अधिकारी शिंपी, पटवारी चातटे आदि ने आंदोलनस्थल को भेट दी. इस समय आंदोलनकर्ताओं ने अधिकारियों को ज्ञापन सौंपकर अतिक्रमण हटाने की मांग की. जिसके बाद अधिकारियों ने तत्काल निर्णय लेने का आश्वासन दिया.