Gondia-Jabalpur Broad gauge project

  • 3 से दौड़ेगी यात्री ट्रेन

गोंदिया. जबलपुर नैरोगेज को ब्राडगेज में परिवर्तित करने विभिन्न स्तरों पर प्रयासों में कोई कसर बाकी नहीं रखी गई थी. दीर्घकाल तक कई हस्तियों द्वारा इसके लिए प्रयास किए गए. अंततः 17 नवंबर 1997 को सांसद प्रफुल पटेल ने सशक्त पहल पर इस आमान परिवर्तन के कार्य का शुभारंभ तत्कालीन रेल मंत्री रामविलास पासवान के हस्ते किया गया था. अब यह कार्य पूर्ण हो चुका है. गोंदिया-जबलपुर रेल मार्ग पर यात्री ट्रेन को प्रारंभ करने की हरी झंडी दे दी गई.

जटिलताओं को दूर करने में निभाई महति भूमिका

उल्लेखनीय है कि इस कार्य को पूरा कराने पटेल सतत सघन प्रयास करते रहे. निर्माण प्रक्रिया के दौरान वन संरक्षण कानून व जमीन अधिग्रहण के कारण कार्य आगे नहीं बढ़ पा रहा था, लेकिन इस संदर्भ में तत्कालीन केंद्रीय पर्यावरण मंत्री कमलनाथ से समन्वय स्थापित कर इन समस्याओं को दूर करवाया था. 

बालाघाट तक हुआ था शुभारंभ

गोंदिया से बालाघाट के बीच गेज  परिवर्तन की पूर्णता के बाद उन्होंने तत्कालीन रेल राज्यमंत्री नारायण राठवा को शुभारंभ 6 दिसम्बर 2005 को करवाया था. अब इस रेल मार्ग का कार्य जबलपुर तक पूर्ण होने के बाद आगामी 3 जनवरी से प्रथम बार 6 राज्यों को जोड़ले वाली ट्रेन  प्रारंभ हो रही है. गया-चेन्नई-गया के बीच सुपरफास्ट ट्रेन गोंदिया होते हुए चलेगी. परिसर के रेल यात्रियो में जबलपुर गोंदिया इस मार्ग पर ट्रेन प्रारंभ होने से हर्ष व्याप्त है.