सांसद पटेल ने मंत्रालय में खाद्यान्न मंत्री भुजबल के साथ की चर्चा, समस्या दूर कर धान खरीदी करने की सूचना

    गोंदिया. धान खरीदी करते समय किसानों को किसी भी तरह की समस्या न हो, धान निर्धारित समय पर खरीदी किया जाए इसकी खबरदारी सभी यंत्रणा ले, किसानों से धान खरीदी के दौरान आने वाली समस्या व सूचना अनुसार उसका निवारण करें ऐसी सूचना खाद्यान्न नागरी आपूर्ति व ग्राहक संरक्षण मंत्री छगन भुजबल ने दी. इस विषय पर मंत्रालय में सभा आयोजित की गई. जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद प्रफुल पटेल उपस्थित थे.

    पूर्व विदर्भ में धान खरीदी करते समय एजेंट संस्था तथा किसानों को अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पडता है. इस समस्या का निवारण करने  के उद्देश्य से सांसद पटेल के आग्रह पर मंत्रालय में बुधवार को विशेष बैठक ली गई. इसमें धान खरीदी केंद्रों पर कैमरे लगाने संबंधी चर्चा हुई लेकिन फिलहाल कैमरे नहीं लगाने का निर्णय लिया गया.

    बारदाने का अभाव होने की जानकारी अधिकारियों ने दी. इस पर मंत्री भुजबल ने बारदाना पर्याप्त संख्या में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए. धान खरीदी करते समय बारदाने पर टैग लगाने की प्रक्रिया है. इस टैग को लगाने की जरूरत नहीं इसी तरह मशीन से बारदाना सिलने की आवश्यकता नहीं ऐसी सूचना दी गई. पिछले वर्ष बडे पैमाने पर धान खरीदी केंद्रों में धान का नुकसान हुआ था.

    इस पर उपाय योजना कर इस बार खरीदी किए जाने वाले धान सुरक्षित रखने की कार्रवाई करें. इसी तरह सब एजेंट संस्था की समस्या तत्काल हल करने के निर्देश मंत्री भुजबल ने दिए. बैठक में सांसद पटेल ने नागपुर, भंडारा, गोंदिया, गडचिरोली व चंद्रपुर जिले में धान खरीदी समय पर की जाए, धान का स्टॉक करने गोदाम की आवश्यकता है. धान स्टॉक करने की समस्या हल करें इसी तरह किसानों को किसी भी केंद्र पर असुविधा नहीं होगी इस पर हस्तक्षेप कर निर्माण होने वाली दिक्कतों को दूर करने के सुझाव रखें.

    विधायक मनोहर चंद्रिकापुरे, राजु कारेमोरे, खाद्यान्न नागरी आपूर्ति व ग्राहक संरक्षण सचिव विजय वाघमारे, राज्य मार्केटिंग महासंघ के व्यवस्थापकीय संचालक सुधाकर तेलंग, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आदिवासी विकास महामंडल के संचालक दीपक सिंघाल, जिलाधीश नयना गुंडे, भंडारा के जिलाधीश संदीप कदम, बाजार समिति के लोमेश वैद्य, प्रवीण बिसेन, रेखलाल टेंभरे तथा चंद्रपुर, गोंदिया, भंडारा व गडचिरोली के जिला खाद्य अधिकारी उपस्थित थे.