Britain: Indian man sentenced to life imprisonment for killing parents

    अर्जुनी मोरगांव.  स्थानीय पुलिस स्टेशन क्षेत्र में एक सप्ताह में यौन उत्पीड़न के तीन मामले दर्ज हुए   हैं. पुलिस ने तीनों मामलों में आरोपी को गिरफ्तार कर  भंडारा जेल भेज दिया  हैं. गौरनगर तहसील में एक बंगाली कॉलोनी में एक नाबालिग लड़की के अपहरण और यौन उत्पीड़न का मामला 14 अक्टूबर को हुआ था.

    जिसमें एक आरोपी के खिलाफ स्थानीय पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है. आरोपी को वडसा से गिरफ्तार किया गया था. लड़की को उसके माता-पिता को सौंप दिया गया और आरोपी को भंडारा जेल भेज दिया गया है. घटना 21 अक्टूबर की है जब एक आरोपी ने अर्जुनी मोरगांव के सिंगलटोली क्षेत्र में 6 साल के बच्चे से छेड़छाड़ कर फरार हो गया.

    तीसरी घटना बोदरा गांव की है. आरोपी मानसिक रूप से विक्षिप्त लड़की का यौन शोषण कर फरार हो गया. घटना 28 अक्टूबर की है. स्थानीय पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर भंडारा जेल भेज दिया है.

    जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे, अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर, उप विभागीय पुलिस अधिकारी जालिन्दर नालकुल व पुलिस निरीक्षक चंद्रकांत सूर्यवंशी के मार्गदर्शन में  पुलिस निरीक्षक सोमनाथ कदम, हवालदार खोटेले, खांडेकर, मडावी,  नायक प्रशांत बोरकर, विजय कोटांगले, गौरीशंकर कोरे, सिपाही लोकेश कोसरे, मोहन कुईकर ने कार्रवाई में सहयोग किया.