PIC: ANI
PIC: ANI

    नाशिक: इस महीने देश अपना 75वां गणतंत्र दिवस (Independence Day 2022) मनाएगा। लेकिन, आज भी देश में ऐसे कई गांव हैं, जो अभी भी काफी पिछड़े हुए हैं। जहां, अभी तक पूरी तरह से सुविधा नहीं पहुंच पाई है। उन्हीं में से एक गांव महाराष्ट्र (Maharashtra News) के नासिक (Nashik) में भी है। जिसका नाम पेठ तालुका (Peth taluka) है। यहां का एक वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर तेज़ी से वायरल (Viral Video) हो रहा है। जिसमें स्कूल ड्रेस पहने बच्चे रोज़ाना स्कूल तक पहुंचने के लिए एक गहरी नदी को पार करते हैं। जिस पर पुल भी नहीं बना हुआ है।  

    सोशल मीडिया पर जब से यह वीडियो वायरल हुआ है, उसे देखकर लोग कई तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं। इस वीडियो को ट्विटर पर न्यूज़ एजेंसी ANI ने शेयर किया है। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि, कुछ लोग स्कूली बच्चों को अपने कंधे पर बिठाकर नदी पार करवा रहे हैं। जो काफी खतरनाक भी साबित हो सकता है। लोग अपनी जान जोखिम में डालकर बच्चों को स्कूल पहुंचा जा रहे हैं। 

    इस वीडियो के कैप्शन में बताया गया कि, पेठ तालुका, नाशिक में पुल की कमी की वजह से बच्चों को स्च्होल पहुँचाने के लिए हर दिन नदी पार किया जाता है। एक स्थानीय के अनुसार, “नदी गहरी है, लेकिन बच्चों को स्कूल जाना पड़ता है, इसलिए हम उन्हें या तो कंधों पर या बड़े बर्तनों में नदी पार करवाते हैं। हम एक पुल बनाने के लिए प्रशासन से अनुरोध करते हैं।” इस वीडियो को देखने के बाद लोगों के मन में कई तरह के सवाल भी खड़े हो गए हैं। इतने सालों बाद भी लोग अपनी जान जोखिम में डालकर बच्चों को स्कूल पहुंचा जा रहे हैं।