omicron
Representative Image

    मुंबई. जहाँ एक तरफ कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए वैरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ (Omicron) के मामले अब लगातार बढ़ रहे हैं। वहीं बीते शनिवार को देश में इस वैरिएंट का फिर एक नया मामला सामने आया है। हालांकि अगर महाराष्ट्र (Maharashtra) कि बात करें तो बीते 24 घंटे में ओमिक्रॉन का कोई भी नया केस नहीं मिला है। 

    गौरतलब है कि राज्य में अब तक ओमिक्रॉन के कुल 17 मामले ही सामने आए हैं, जिनमें से 7 मरीज रिकवर होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज भी हो चुके हैं। जिसमें पिंपरी चिंचवड़ की एक डेढ़ साल की बच्ची शामिल है, जिसे आज अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।  

    इधर स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के 807 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 20 मरीजों की मौत हो गई। जिसके बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 66,43,179 और मृतकों की संख्या 1,41,243 हो गई है।

    आंकड़ों के मुताबिक अब तक  बीते 24 घंटों में 869 लोग कोरोना से उबरे हैं। राज्य में अब तक 64,91,805 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं। फिलहाल में राज्य में 6,452 एक्टिव मरीजों का इलाज हो रहा है।  वहीं राज्य में बीते शनिवार को रिकवरी रेट 97.72 और डेथ रेट 2.12 प्रतिशत दर्ज किया गया। वहीं 75,095 होम क्वारंटाइन और 865 लोग फिलहाल संस्थात्मक क्वारंटाइन में है।

    गौरतलब है कि बीते  शुक्रवार को राज्य में कोरोना के 695 मामले सामने आए थे और 12 संक्रमितों की मौत हुई थी। हालांकि, अच्छी बात यह रही कि 811 लोग इस खतरनाक बीमारी से ठीक होकर घर लौटे हैं।

    मुंबई में नहीं हुई कोई भी मौत 

    वहीं मुंबई में बीते 24 घंटे में सिर्फ 256 नए मामले सामने आए हैं। हालांकि राहत कि बात यह रही कि शहर में बीते 24 घंटे में एक भी मौत दर्ज नहीं की गई। इसके अलावा 221 लोग कोरोना से ठीक होकर घर लौटे हैं। यहां शनिवार को रिकवरी रेट 97% दर्ज किया गया।

    महाराष्ट्र में  धारा 188 लागू 

    पता हो कि, मुंबई (Mumbai) में कोरोना (Coronavirus Pandemic) के नए वेरिएंट ओमीक्रोन के मामले सामने आने के बाद सरकार ने अब 11-12 दिसंबर के लिए धारा 144 भी लागू की है। इसके साथ ही रैलियों, जुलुस और मोर्चाओं पर भी रोक लगाई गई है।मुंबई पुलिस उपायुक्त (संचालन) द्वारा जारी आदेश यानी शनिवार और आज रविवार 48 घंटे तक प्रभावी रहेगा।