Sunday funday with devang patel dharmesh mehta and abrar kashif

मुंबई. कोरोना का असर देश सहित पूरे विश्व में दिख रहा हैं। पूरी दुनिया में तनाव का माहौल बना हुआ हैं। लोग घरों में बैठे बैठे ऊब से गए हैं। आपकी इसी बोरियत को कम करने के लिए हमने आपका संडे प्लान किया हैं। आज आपके संडे को फनडे में बदलने के लिए हमारे साथ जुड़ने वाली हैं  बॉलीवुड इंडस्ट्री की जानी मानी हस्ती देवांग पटेल, आपके पसंदीदा शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा के निर्देशक धर्मेश मेहता और मशहूर उर्दू शायर अबरार काशिफ। जी हाँ, बोर होने से कैसे बचा जाए और संडे को कैसे एन्जॉय किया जाए यह जानने के लिए आप नवभारत के फेसबुक पेज से इन्हें शाम 4 बजे लाइव देख सकते हैं।

तीनों की कलाकार अपने अपने क्षेत्र में अव्वल है और कई उचाइयां छू चुके हैं। देवांग पटेल एक सिंगर, अभिनेता, रैपर, गीतकार, नर्तक, फिल्म निर्माता, फिल्म निर्देशक और संगीत कलाकार के रूप में दिलों को जीत रहे हैं। वर्ष 1995 में आई गोविंदा स्टारर फिल्म गैम्बलर में देवांग के एक गाना ‘मेरी मर्जी’ लोग आज भी गुनगुनाते हैं। यही नहीं देवांग हिंदी सहित  गुजराती और पॉप गाने भी गाते हैं। साथ ही कई गुजराती फिल्मों में बतौर अभिनेता कर चुके है। 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान देवांग का ‘चौकीदार रैप’ काफी हिट हुआ। इस रैप में उन्होंने कहा है कि लोकसभा चुनाव में मोदी ही चुन कर आएंगे। देवांग आज शाम 4 बजे हमारे साथ नवभारत के फेसबुक पेज पर (https://www.facebook.com/enavabharat) रूबरू होंगे। 

शायरी कौन पसंद नहीं करता होगा। समां बांधने के लिए एक बेहतरीन शायरी ही काफी है। गाने तो हम अकसर सुन लिया करते है लेकिन आज आप शाम 4.30 बजे नवभारत के फेसबुक पेज  (https://www.facebook.com/enavabharat) से लाइव शायरी सुनने का लुफ्त उठाने वाले हैं। आज हमारे साथ एक मशहूर उर्दू शायर अबरार काशिफ साहब जुड़ने वाले हैं। अबरार काशिफ अक्सर मोहब्बत, प्यार, इश्क इन पर शायरी करते है। उन्हीं की लफ्जों में एक पेशकश कुछ यूँ है कि… 

“धूप भी तेज़ हुयी मौसमे बरसात के साथ,
कुछ नए ज़ख़्म मिले लुत्फ़े मुलाक़ात के साथ,
लफ़्ज़ लिखता है के लफ़्ज़ों से फूटती है किरण,
कोई रिश्ता है तेरे ख़त का तेरे हाथ के साथ,
मेरी औक़ात ही क्या कितने हुनर के सूरज,
दिन में ही डूब गए अपने कमालात के साथ,
सर जो कटता है कटे जुर्रते इंकार दिखा,
इतने समझोते ना कर सूरत-ए-हालात के साथ,
तुम किसी और की हो जाओ मगर ध्यान रहे,
एक जनाज़ा भी निकल सकता है बारात के साथ….” 

वही आज हमारे साथ जुड़ने वाली दूसरी हस्ती धर्मेश मेहता जो भारतीय निर्देशक हैं और गुजराती फिल्म उद्योग में अपने काम के लिए जाने जाते हैं। उनकी 2017 की रिलीज़ में ‘पापा तमने नहीं समझाय’, एक कॉमेडी ड्रामा है जिसमें भाव्या गांधी, केतकी दवे, और मनोज जोशी महत्वपूर्ण भूमिकाओं में हैं। 2019 की रिलीज़ में धर्मेश मेहता द्वारा निर्देशित ‘चील झड़प’ शामिल हैं।  धर्मेश मेहता SAB टीवी पर आने वाले शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा और पापड़ पोल और R..Laxman Ki Duniya के निर्माता के रूप में अपनी दिशात्मक भूमिकाओं के लिए जाने जाते हैं। धर्मेश मेहता टीवी इंडस्ट्री के सफल निर्देशकों में शुमार हैं। धर्मेश मेहता से मुलाकात करने और उन्हें लाइव देखने के लिए शाम 5 बजे आप नवभारत के फेसबुक पेज (https://www.facebook.com/enavabharat) से जुड़े।