197 teachers' December salary halted
Representative Pic

– सरकार ने जारी किया परिपत्र

मुंबई.कोरोना संकट तक शिक्षकों को मुंबई के स्कूलों में हर रोज आने की जरुरत नहीं है.सरकार ने शिक्षकों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा उपलब्ध कराई है.इस संदर्भ में नया परिपत्र जारी किया गया है.

  सरकार की तरफ से 15 जून को आदेश जारी कर शिक्षकों को स्कूलों में आने एवं पठन पाठन का कार्य शुरु करने के लिए कहा गया था.जिससे मुख्याध्यापकों ,शिक्षकों एवं अभिभावकों में उहापोह की स्थिति उत्पन्न हो गई थी.जिसको लेकर विधानपरिषद सदस्य कपिल पाटिल ने मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री से पत्र व्यवहार शुरु किया.जिसके तहत नया परिपत्र जारी किया गया.नए परिपत्र में कहा गया है कि अभी तक सार्वजनिक परिवहन अत्यावश्यक सेवा के लिए शुरु की गयी है. इसलिए शिक्षकों को ई लर्निंग के लिए सप्ताह में दो दिन बुलाया जाय, उन्हें वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी जाय.

55 वर्ष से अधिक उम्र वाले, मधुमेह, सांस की बीमारियों से ग्रसित, जैसे अन्य बीमारियों से परेशान शिक्षकों एवं मुख्यअध्यापकों को स्कूल में नहीं बुलाया जाय. साथ ही एक ही साथ सभी अध्यापकों को स्कूल में नहीं बुलाया जाएगा.लॉकडाउन के दौरान महिला शिक्षकों को स्कूल नहीं बुलाया जाएगा.