File Photo
File Photo

    • 20 मिनट लगता है चौक पार करने में
    •  लगती हैं वाहनों की लंबी कतारें

    नागपुर. गोरेवाड़ा से मानकापुर चौक जाने वाले रिंग रोड पर वाहन लेकर निकलने से पहले बार-बार सोचना पड़ता है. वजह सड़क चौड़ीकरण के अधूरे निर्माण के कारण लगने वाली वाहनों की लंबी कतारें. इस मार्ग के एक तरफ का हिस्सा अभी भी नहीं बन पाया है. इसके चलते दोनों तरफ का ट्रैफिक एक ही लेन से गुजरता है.

    रिंग रोड होने के कारण ज्यादातर ट्रक, कंटेनर जैसे बड़े और भारी वाहन इस मार्ग से गुजरते हैं. इसके चलते दोनों तरफ 1-2 किमी तक वाहनों की लंबी कतारें नजर आती हैं. सेंट पल्लोटी स्कूल से मानकापुर चौक पर हमेशा वाहनों की कतारें नजर आती हैं. मानकापुर चौक में सिग्नल और भारी वाहनों का सड़क पर कब्जा होने के कारण वाहन धीरे-धीरे आगे बढ़ते है. पल्लोटी स्कूल से मानकापुर चौक पार करने में 20-25 मिनट का समय लग जाता है. 

    कई महीनों से चल रहा काम

    इस छोटे से पैच का काम पिछले 6 माह से चल रहा है. लॉकडाउन के कारण कुछ समय काम बंद भी रहा. लेकिन जितने दिन चला कछुआ गति से ही आगे बढ़ा. इसका खामियाजा स्थानीय नागरिकों के अलावा यहां से लंबी दूरी पर जाने वाले वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा है. मानकापुर चौक से गोरेवाड़ा की ओर जाने वाले मार्ग का काम तो लगभग पूरा हो गया लेकिन विपरीत दिशा से आने वाले मार्ग पर कई जगह काम अधूरा पड़ा है. 

    दिनभर रहती है वाहनों की दौड़धूप

    रिंग रोड होने के कारण यहां दिनभर भारी वाहनों की दौड़धूप लगी रहती है. कामठी रोड और छिंदवाड़ा रोड को काटोल रोड से यही मार्ग जोड़ता है. इसके अलावा इस मार्ग के आसपास पिछले कुछ वर्षों में काफी नई बस्तियां बस गई है. इस वजह से हमेशा यहां चहल-पहल बनी रहती है. कई बार दुपहिया चालक जल्दबाजी में भारी वाहनों से आगे निकलने की कोशिश करते हैं.

    इससे दुर्घटनाओं का अंदेशा बना रहता है. भीषण दुर्घटनाओं में कुछ लोगों को जान भी गंवानी पड़ी है. इसके बावजूद भी प्रशासन जाग नहीं रहा. लॉकडाउन के कारण आवागमन कम होने से हाल के दिनों में कोई दुर्घटना नहीं हुई लेकिन अब सब खुलते ही पहले जैसी स्थित हो गई है.