CEOs Kumbhejkar gave instructions to make list

    नागपुर. ओबीसी की रद्द हुईं 16 जिप और 31 पंस की सीटों पर 5 अक्टूबर को होने वाले चुनाव के लिए जिले में कांग्रेस, भाजपा, राकां, शिवसेना की बैठकों का दौर शुरू हो गया है. कांग्रेस और राकां तो गठबंधन कर चुनाव लड़ रही हैं लेकिन भाजपा और शिवसेना स्वतंत्र रूप से सभी सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं. 27 अक्टूबर को नामांकन वापसी होगी और उसके बाद ही उम्मीदवार फाइनल हो जाएंगे. उसी दिन से खुले रूप में चुनाव प्रचार भी शुरू हो जाएगा. केवल 6 दिन प्रचार के लिए मिलेंगे. इसलिए अभी से संगठन बैठकों का दौर शुरू हो गया है. सभी पार्टी के वरिष्ठ नेता संबंधित सर्कलों में संगठन पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठकें लेकर चुनाव प्रचार की रणनीति तय कर रहे हैं. कम से कम समय में अधिक से अधिक मतदाताओं तक पहुंचने के लिए इस बार सोशल मीडिया का भरपूर उपयोग करने की रणनीति लगभग सभी ने अपनाई है. 

    कांग्रेस का सभी सीटों पर जीत का लक्ष्य

    जिला कांग्रेस कमेटी की बैठक जिलाध्यक्ष राजेन्द्र मूलक की अध्यक्षता में गणेशपेठ स्थित पार्टी कार्यालय में ली गई. बैठक में मंत्री सुनील केदार, शहर अध्यक्ष व विधायक विकास ठाकरे, नाना गावंडे, किशोर गजभिये, विशाल मुत्तेमवार, जिप अध्यक्ष रश्मि बर्वे सहित वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे. मूलक व केदार ने जिप व पंस की उन सभी सीटों पर जीतने के लिए एकजुट होकर काम पर लगने का निर्देश कार्यकर्ताओं को दिया. कांग्रेस ने 16 में से 10 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. जिस तरह जनवरी 2020 में हुए चुनाव में एकजुटता दिखाकर जिला परिषद की सत्ता से भाजपा को हटाकर पूर्ण बहुमत से सत्ता हासिल की थी, उसी तर्ज पर अब ओबीसी की खोयी हुई सभी सीटों पर दोबारा जीत हासिल कर अपनी सत्ता पूर्ण बहुमत से ही कायम रखने की अपील कार्यकर्ताओं से की गई. 

    उम्मीदवारों से भी साधा संवाद

    बैठक में कांग्रेस के उम्मीदवारों से भी संवाद साधा गया. उनकी बात सुनी गई. वहीं केदार ने कहा कि युवक कांग्रेस पार्टी के हित व संगठन को मजबूत करने का काम करें. वे हमेशा उनके साथ रहेंगे. बैठक में जिप सभापति तापेश्वर वैद्य, भारती पाटिल, नेमावली माटे, कुंदा राऊत, रमेश जोध, भीमराव कडू, तुलसीराम कालमेघ, राहुल सीरिया सहित जिप, पंस, नप के पदाधिकारी, सदस्य व पदाधिकारी, कार्यकर्ता बड़ी सख्या में उपस्थित थे. 

    भाजपा की हर सर्कल में बैठक

    भाजपा भी सभी सीटों पर सर्कल निहाय संगठन पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठकें ले रही हैं. जिलाध्यक्ष अरविंद गजभिये ने बताया कि लक्ष्य अधिक से अधिक सीटों पर जीत हासिल करने का है. सभी सीटों से नामांकन भरा गया है. 27 अक्टूबर को नामांकन वापसी की अंतिम तारीख है. उसके बाद चुनाव प्रचार जोर-शोर से शुरू हो जाएगा. फिलहाल सभी सर्कल व पंचायत समिति निहाय संगठन की बैठकें रोज ही जारी हैं. कार्यकर्ताओं में उत्साह है और पार्टी संगठन की ओर से उप चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए काम किया जा रहा है.