PUNE CRIME

    पुणे :  बढ़ते अपराध के क्रम में हत्या की एक वारदात ने पुणे (Pune) में सनसनी फैला कर रख दी है। मंगलवार की शाम 8वीं कक्षा में पढ़ने वाली और कबड्डी की खिलाड़ी रही एक छात्रा (Student) की गर्दन काटकर उसकी बड़ी बेरहमी से हत्या (Murder) कर दी गई। बिबवेवाड़ी (Bibwewadi) के यश लॉन्स परिसर में दिनदहाड़े जब यह वारदात हुई तब वहां कई बच्चे कबड्डी की प्रैक्टिस कर रहे थे और कुछ लोग वॉकिंग कर रहे थे। हालांकि वारदात के वक्त सभी डर कर भाग निकले। एकतरफा प्यार में यह सनसनीखेज वारदात होने का अंदेशा लगाया जा रहा है। उधर घटना के बाद पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है और मामले की जांच कर रही है।

    पुलिस से मिली प्राथमिक जानकारी के अनुसार, मृतका का नाम क्षितिजा अनंत व्यवहारे (14) है। वह आठवीं कक्षा में पढ़ रही थी और कबड्डी की खिलाड़ी भी थी। आज शाम वह अन्य खिलाड़ियों के साथ यश लॉन्स परिसर में कबड्डी की प्रैक्टिस कर रही थी। तभी उसका रिश्तेदार रहा एक युवक अपने साथियों के साथ वहां आया। उसने उसे साइड में बुलाया और दोनों बात करने लगे। इस दौरान उनके बीच विवाद हुआ। तब युवक ने उसकी सहेलियों को दूर भगाया। इसके बाद कोयता निकाल कर क्षितिजा की गर्दन पर वार कर दिया। उसके धराशायी होकर नीचे गिरते ही उसने वार पर वार करने की शुरुआत की। 

    पुलिस को घटना स्थल से मिला पिस्तौल और कोयता

    प्रत्यक्षदर्शियों से मिली जानकारी के अनुसार हमलावर युवक क्षितिजा का सिर धड़ से अलग करना चाहता था। उसकी हत्या के बाद हमलावर युवक और उसके साथी हथियार वहीं डालकर भाग निकले। बताया जा रहा है कि उनके पास पिस्तौल भी थी, लेकिन उसका इस्तेमाल नहीं किया गया। पुलिस को मौके से कोयते के साथ पिस्तौल भी मिली है। जब यह वारदात हुई उसके कुछ ही देर पहले पुलिस की पैट्रोलिंग टीम वहां से गुजरी थी। इसके बावजूद ऐसी भीषण वारदात होने से पूरे इलाके में खौफ व्याप्त है। पुलिस ने हत्या के आरोप में 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और इन लोगों ने हत्या क्यों की है इसकी जांच शुरू कर दी है। 

    चित्रा वाघ ने राज्य सरकार पर साधा निशाना

    उधर, घटना को लेकर चित्रा वाघ ने ट्वीट कर ह्त्या पर  कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि प्रियांका जी, हाथरस की घटना पर आपने आंसू बहाए, लेकिन पुणे घटना पर चुप क्यों है? पुणे में जिस बच्ची की हत्या हुई है वो आपकी बेटी समान नहीं है क्या? या सिर्फ चुनाव वाले युपी में ही आपकी संवेदनाएं जागृत होती है! कहाँ है #MVA की कानून व्यवस्था ?