fine
file

    पिंपरी : महामारी कोरोना के चलते लगाए गए निर्बन्धों का उल्लंघन करनेवाले लोगों के खिलाफ पिंपरी चिंचवड़ पुलिस और महानगरपालिका की संयुक्त मुहिम से जुर्माने के रूप में दो करोड़ 34 लाख रुपये की निधि इकट्ठा हुई है। इस निधि से पुलिस को पैट्रोलिंग के लिए 50 मोटरसाइकिलें खरीदने का फैसला किया गया है। राज्य सरकार के जीईएम पोर्टल के ई स्टोर्स में से ये 50 बजाज पल्सर मोटरसाइकिलें खरीदी जाएंगी। इसके लिए 47 लाख 42 हजार रुपए की लागत आएगी। यह खर्च लॉकडाउन के दौरान मास्क का इस्तेमाल न करने, बेवजह घरों से बाहर घूमने वालों से वसूले गए जुर्माना राशि में से किया जाएगा।

    पिंपरी चिंचवड़ शहर की बढ़ती आबादी, तेजी से विकास, शहर में भीड़भाड़, यातायात नियम और नियंत्रण आदि को ध्यान में रखते हुए, राज्य सरकार ने अगस्त 2018 में पिंपरी चिंचवड़ मनपा और आसपास के क्षेत्रों के लिए एक स्वतंत्र पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस आयुक्तालय शुरू किया है। शहर और उसके आसपास हिंजवडी, चाकण, तालेगांव-दाभाडे में आईटी, ऑटोमोबाइल उद्योगों और औद्योगिक संपदाओं के कारण शहरी आबादी में बड़ी वृद्धि हो रही है। ट्रैफिक जाम, अपराध और चोरी की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं। अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस गश्त की जरूरत है। इसके लिए मोटरसाइकिल एक प्रभावी साधन है। मोटरसाइकिल कम से कम समय में पुलिस कर्मियों को तंग गलियों, झुग्गी बस्तियों आदि तक पहुंचने में मदद करेगी। 

    इस पृष्ठभूमि पर पुलिस कमिश्नर कृष्ण प्रकाश ने 11 अगस्त 2021 के पत्र द्वारा पैट्रोलिंग के लिए 100 बजाज पल्सर मोटरसाइकिल, दो माइक्रोफोन, सायरन, बिना फ्लैश लाइट के ब्लिंकर, कैमरे, जीपीएस ट्रैकिंग सिस्टम, जैमर होल्डर, हेलमेट, विशेष फिटिंग आदि उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है। पुलिस आयुक्तालय का राज्य सरकार के जीईएम पोर्टल के ई-स्टोर से पुलिस गश्त के लिए 50 मोटरसाइकिल खरीदने का प्रस्ताव है। बजाज पल्सर मोटरसाइकिल की कीमत 94 हजार 850 रुपये है।  इस हिसाब से 50 मोटरसाइकिलों की खरीद पर करीब 47 लाख 42 हजार रुपये खर्च होने का अनुमान है। कोरोना प्रकोप के दौरान, महानगरपालिका और पुलिस के संयुक्त अभियान ने मास्क का इस्तेमाल न करने, बेवजह घरों से बाहर घूमने वाले नागरिकों पर जुर्माना लगाया था। इस जुर्माने से 2 करोड़ 34 लाख रुपये का फंड जुटाया गया है। इस फंड से 50 मोटरसाइकिलें खरीदी जाएंगी।