AJIT PAWAR

    पुणे. उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar) ने भरोसा जताया है कि मुलशी बांध (Mulshi Dam) से शहर की जलापूर्ति (Water Supply) के लिए पांच टीएमसी पानी (TMC Water) उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि शहर में शामिल नए गांवों के विकास के लिए धन की कमी नहीं होने दी जाएगी। बालेवाड़ी वार्ड नं. 9 में डॉ. सागर गणपतराव बालवडकर के जनसंपर्क कार्यालय (Public Relations Office) का उद्घाटन अजीत पवार के हाथों सम्पन्न हुआ।  इस मौके पर उपमुख्यमंत्री पवार ने यह जानकारी दी। 

    उपमुख्यमंत्री पवार ने कहा कि बांध टाटा कंपनी का है, जहां बिजली का निर्माण होता है, लेकिन स्थिति पहले जैसी नहीं रही, अब पानी के अलावा भी विभिन्न माध्यमों से बिजली पैदा की जा रही है। इसलिए  5 टीएमसी पानी के बदले, महाराष्ट्र सरकार टाटा कंपनी को उतनी ही बिजली उपलब्ध कराने का प्रयास करेगी। इसके लिए महाराष्ट्र सरकार ने एक कमेटी बनाई है और यह कमेटी इस पर काम कर रही है। अजीत पवार ने कहा कि उनकी कोशिश है कि पुणे शहर को जल्द से जल्द 5 टीएमसी पानी उपलब्ध कराया जाए।

    विकास के लिए पुणे महानगरपालिका में धन की कमी नहीं होने दिया जाएगा

    सुस और म्हालुंगे समेत 23 अन्य गांवों को पुणे महानगरपालिका में शामिल किया गया है। अन्य शहरों की तरह, इन नए शामिल गांवों को भी सभी सुविधाएं मिलेंगी। पवार ने कहा कि पुणे महानगरपालिका में धन की कमी नहीं होने दिया जायेगा। पार्षद बाबूराव चंदेरे, जब स्थायी समिति के अध्यक्ष थे, तब उन्होंने बाणेर-बालेवाड़ी क्षेत्र में योजनाबद्ध तरीके से विकास किया। उन्होंने यह भी कहा कि पीएमआरडी द्वारा तैयार की गई विकास योजना के संबंध में म्हालुंगे गांव के किसानों की शिकायतों का समाधान किया जाएगा।

    महिलाओं की समस्या के लिए महिला की तैनाती 

    उन्होंने कहा कि जनसंपर्क कार्यालय लोगों की समस्याओं को हल करने के लिए हैं और जनसंपर्क कार्यालय में महिलाओं की आवश्यकता है। कई महिलाओं को पुरुषों को अपनी समस्या बताना मुश्किल होता है, इसलिए महिलाएं बिना किसी झिझक के महिला से अपनी समस्या बता सकती हैं। महिलाओं की समस्याओं के समाधान के लिए जनसंपर्क कार्यालय में रूपाली बालवडकर  मौजूद रहेंगी। 

    छात्रों को दिया गया छात्रवृत्ति 

    इस अवसर पर श्री खंडेराय प्रतिष्ठान की ओर से बाणेर बालेवाडी, म्हालुंगे के संघर्षरत कक्षा 10 वीं पास विद्यार्थियों को आर्थिक सहायता के रूप में “अजीत आकांक्षा छात्रवृत्ति” का वितरण किया गया। छात्रवृत्ति प्रति वर्ष 11,000 रुपए की नकद राशि के रूप में दी जाएगी। एनसीपी के शहराध्यक्ष प्रशांत जगताप , नगरसेवक बाबुराव चांदेरे , श्री खंडेराय प्रतिष्ठान के अध्यक्ष गणपतराव बालवडकर, मयूर कलाटे, बाणेर नागरी पंत संस्था के संस्थापक दिलीप मुरकुटे, सुनील चांदेरे, नामदेव चांदेरे, समीर चांदेरे,सुहास भोते, सुखदेव चांदेरे, पुनम विशाल विधाते, मनोज बालवडकर, चंद्रशेखर जगताप,पोपटराव पाडाले, युवराज कोलेकर, निलेश पाडाले, अजिंक्य निकालजे आदि उपस्थित थे।