file photo
file photo

    पुणे. स्मार्ट सिटी परियोजना में शामिल पुणे (Pune) के नागरिक साइबर ठगों का सॉफ्ट टार्गेट (Soft Target) बने हुए हैं। पिछले 9 महीने में साढ़े 12 हज़ार से अधिक शिकायत साइबर पुलिस (Cyber Police) के पास दर्ज कराई गई है। इसमें सबसे अधिक 5672 से अधिक ठगी केवल ऑनलाइन (Online) के जरिए की गई है। इसके अलावा फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया (Social Media)प्लेटफार्म के जरिए साइबर अपराधी नागरिकों को चूना लगा रहे है।

    हालिया एक मामला सामने आया, जिसमें विवाह रजिस्ट्रेशन वेबसाइट के जरिए अनजान व्यक्ति ने एक महिला को व्यवसायी बताकर पहचान बढ़ाई । इसके बाद सोशल मीडिया के जरिए बातचीत शुरू की। उसने महिला के साथ शादी करने की इच्छा जताई। एक दिन उसने महिला से अपने एक प्रोजेक्ट के लिए पैसे मांगे। महिला ने बिना सोचे-विचारे उसे 16 लाख रुपए ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिए। खुद के ठगे जाने का अंदेशा होने पर महिला पुलिस स्टेशन पहुंची। इस तरह से हज़ारों स्मार्ट पुणेवासी साइबर अपराधियों के जाल में फंस रहे है।

    सोशल मीडिया के जरिए लगा रहे है चूना

    पिछले 9 महीने में विभिन्न साइबर अपराध के मामलों में सबसे अधिक 5672 से अधिक ठगी केवल ऑनलाइन के जरिये की गई है। इसके साथ-साथ फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया के जरिए साइबर अपराधी नागरिकों को चूना लगा रहे है। पुणे शहर में पिछले 9 महीने में साढ़े 12 हज़ार से अधिक शिकायत साइबर पुलिस के पास दर्ज कराई गई है। इसके जरिये साइबर अपराधियों के जाल में आसानी से लोग फंस रहे है। डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल, क्यूआर कोड, नौकरी, कर्ज, उपहार जैसे ऑनलाइन ठगी की सबसे अधिक शिकायत है। इसके साथ ही फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया का सतर्कता से इस्तेमाल नहीं करने पर नागरिक साइबर अपराधियों के जाल में फंस रहे है। साथ ही उद्योग सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ भी ठगी की घटनाएं बढ़ रही है।

    लेनदेन करते वक़्त पूरी सावधानी बरतनी चाहिए

    साइबर क्राइम के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक डी.एस. हाके ने अपील की है कि नागरिकों को ऑनलाइन लेनदेन करते वक़्त पूरी सावधानी बरतनी चाहिए। किसी भी तरह के लिंक, ई-मेल, वीडियो को रिस्पांस देने से बचें। सामान हाथ में आने पर ही पैसे दें। विज्ञापन और लालच के झांसे में नहीं आए।

    ऐसे बरते सावधानी

    • खुद की या परिवार की गोपनीय जानकारी सोशल मीडिया में नहीं डाले
    • सोशल मीडिया पर अपने फोटो, वीडियो अपलोड करने से बचे
    • अनजान व्यक्ति का फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार करने में सावधानी रखें
    • किसी भी तरह के क्यूआर कोड को स्कैन नहीं करें
    • बैंक या खुद से संबंधित गोपनीय जानकारी अन्य को नहीं दें