CM Yogi Adityanath and Rahul Gandhi

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) ने शनिवार को बिना नाम लिए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर निशाना साधते हुए कहा कि ”देश में आपदा के समय एक पार्टी के लोग इटली भाग जाते हैं, देवी-देवताओं पर टिप्पणी करना, राम-कृष्ण को नकारना उनकी प्रवृत्ति का हिस्सा है, जो एक्सीडेंटल हिन्दू होगा तो यही होगा।”

    शनिवार को लखनऊ महानगर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को संबोधित करते हुए योगी ने कहा, ” निर्दोष लोगों की संपत्ति एवं सरकारी संपत्ति पर अवैध कब्जा करने वालों का एक ही उपचार है -बुलडोजर।”

    उन्होंने कहा कि पहले डीजीपी आवास के पास एक शत्रु संपत्ति पर अवैध कब्जा था, मैंने कहा कि इसका एक ही उपचार है- बुल्डोजर। कभी-कभी ज्यादा पंचायत न करके सीधे जवाब देने की जरूरत होती है।”

    समाजवादी पार्टी (सपा) पर हमला करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ”पिछली सरकार में पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोग बाढ़ में डूबे रहते थे, बच्चे एवं नागरिक इंसेफेलाइटिस और डेंगू की चपेट में आकर तड़पते थे। उस समय, जिम्मेदार लोग सैफई में फिल्मी हस्तियों के नृत्य का आनंद लेने में व्यस्त रहते थे। मुझे समझ में नहीं आता कि स्वार्थ में लोग राष्ट्र व समाज हित कैसे भूल जाते हैं।”

    योगी ने कहा कि ” देश कमजोर होगा तो कोई व्यक्ति मजबूत होकर भी कुछ नहीं कर सकता। अगर देश मजबूत होगा तो सब एक साथ मजबूत होंगे।”

    योगी ने प्रबुद्ध वर्ग को आगाह करते हुए कहा, ”हम सबकी व्यक्तिगत इच्छा, उपासना विधि, मत-मजहब की स्वतंत्रता, राष्ट्र धर्म के समक्ष गौड़ है। जब भी प्रबुद्ध समाज का चिंतन अवरुद्ध हुआ है, प्रदेश के सामने संकट आया है, पूरा देश आत्मविस्मृत स्थिति पर पहुंचा है।”

    योगी ने कहा कि आत्मविस्मृत समाज अपनी स्वाधीनता की रक्षा कभी नहीं कर पाता। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि आप सभी समाज को सही दृष्टि और विचार प्रदान करते हैं और सही राह दिखाते हैं, यह आपको तय करना है कि उत्तर प्रदेश में आपको दंगा युक्त,और माफियाओं की सरकार चाहिए या राम राज्य की सरकार।

    पिछली सरकारों पर इशारा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ”उत्तर प्रदेश पहले दंगों का प्रदेश हुआ करता था, लोगों को कर्फ्यू का सामना करना पड़ता था, वे कोई भी त्योहार शांतिपूर्ण तरीके से नहीं मना सकते थे । उत्तर प्रदेश की छवि ऐसी हो गई थी उत्तर प्रदेश का नौजवान कभी उत्तर प्रदेश के बाहर जाता था उसको लोग किस नजर से देखते थे, लेकिन भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के बाद पिछले साढे चार वर्ष में एक भी दंगा उत्तर प्रदेश में नहीं हुआ है।” (एजेंसी)