Meta and Facebook
File Photo

मुंबई: Twitter के बाद अब Meta ने भी अपनी पेड वेरिफिकेशन (Paid Verification Service) सर्विस लॉन्च (Launch) कर दी है। ट्विटर (Twitter) का उपयोग करने के लिए पैसा खर्च होता है। उसके बाद अब मेटा ने पेड वेरिफिकेशन सर्विस भी शुरू कर दी है। कंपनी ने इस सर्विस को कल यानी शुक्रवार से अमेरिका (America) में शुरू कर दिया है।

 990 रुपये प्रति माह का आएगा खर्च 

यह फेसबुक (Facebook) और इंस्टाग्राम (Instagram) यूज़र्स को पेड वेरिफिकेशन प्राप्त करने की अनुमति देता है। एलोन मस्क ने ट्विटर के लिए पेड वेरिफिकेशन शुरू किया, अब लिस्ट में और प्लेटफॉर्म जुड़ते जा रहे हैं। मेटा को सब्सक्राइब करने पर ही ब्लू टिक (Blue Tick) उपलब्ध होगा। इससे यूजर्स को एक आईडी कार्ड (ID Card) और 990 रुपये प्रति माह का खर्च आएगा। यूजर्स को Apple iOS और Android प्लेटफॉर्म के लिए 1,240 रुपये देने होंगे। व्हाट्सएप के बारे में मेटा ने अभी तक कुछ स्पष्ट नहीं किया है। ऐसे में WhatsApp यूजर्स को फिलहाल परेशान होने की जरूरत नहीं है।

 कुछ पैसों में एडवांस फीचर 

कुछ समय पहले तीनों ऐप्स को मिलाकर एक कंपनी बनाई गई थी। जिसका नाम मेटा था। अब मेटा कंपनी ही व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम और फेसबुक को लागू और नियंत्रित करती है। इसका मतलब है कि मेटा यूजर्स को कुछ पैसों में एडवांस फीचर देने जा रहा है। इसके लिए कंपनी एक नया प्रोडक्ट संगठन स्थापित कर रही है, जो फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप पर पेड फीचर पर काम करेगा।