fire in plastic pearl making factory in Bhiwandi

    भिवंडी. शांतिनगर पुलिस स्टेशन (Shantinagar Police Station) अंतर्गत नारायण कंपाउंड (Narayana Compound)स्थित एक प्लास्टिक का मोती बनाने वाले कारखाने में शनिवार की रात करीब 9 बजे आग (Fire) लग गई। फायर ब्रिगेड की टीम जब तक आग पर काबू करती पूरा कारखाना सहित करोड़ों का माल जलकर राख हो गया। आग लगने के कारणों का सही पता नहीं लग सका है। ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि बिजली की शार्ट सर्किट (Short Circuit) से आग लगी होगी, मामले की जांच जारी है।  

    मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार की रात करीब 9 बजे के दरमियान शांतिनगर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत सुभाष नगर के पास स्थित नारायण कंपाउंड में एक प्लास्टिक के मोती बनाने के कारखाने में भीषण आग लग गई। घटना की खबर मिलते ही फायर ब्रिगेड की 2 गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंचकर कड़ी मेहनत के बाद करीब 5 घंटे में आग पर काबू पाया। रात में आग लगने की घटना से आसपास के लोगों में दहशत फैल गई थी । प्लास्टिक  कारखाने में रखें केमिकल के जहरीले काले धुएं से आसपास में रहने वाले नागरिकों को सांस लेने में कठिनाई होने की शिकायतें मिली हैं। 

    आग लगने की घटनाएं लगातार घट रही हैं

    बिदित हो कि भिवंडी शहर तथा ग्रामीण क्षेत्र में गर्मी का मौसम शुरू होते ही आग लगने की घटनाएं लगातार घट रही हैं, जिनमें वेयरहाउस, पावरलूम कारखाना, प्लास्टिक का मोती बनाने का कारखाना, भंगार की दुकान व गोदाम आदि शामिल है।आग लगने की घटना के बाद स्थानीय प्रशासन कोई ठोस कार्रवाई नहीं करता है, अपितु हाथ पर हाथ रखकर बैठ जाता है, जिसके कारण आग लगने की घटनाएं होती रहती हैं। ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि यदि प्रशासन ने इसके सही उपाय नहीं किए तो भविष्य में ऐसी आग लगने की भीषण घटनाएं होने की प्रबल संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।