आयुक्त एक्शन में, 15 दिन में सुधारो बगीचे

नवी मुंबई. बगीचों (Gardens) के शहर के नाम से अपनी पहचान बनाने वाली नवी मुंबई मनपा (Navi Mumbai Municipal Corporation) के क्षेत्र में कोरोना काल के दौरान बगीचों की देखभाल व मरम्मत का काम नहीं हो पाया था। जिसकी वजह से मनपा क्षेत्र के कई बगीचे बदहाल हो गए हैं। इन बगीचों को फिर से सुंदर बनाने के लिए मनपा आयुक्त ने कमर कसी है, जिसके लिए उन्होंने मनपा के बगीचा विभाग के अधिकारियों को 15 दिनों में बगीचों की मरम्मत करने का निर्देश दिया है।

गौरतलब है कि बगीचा घोटाला के उजागर होने के बाद से मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर (Municipal Commissioner Abhijeet Bangar) ने इस विभाग की ओर विशेष तौर पर ध्यान दे रहे हैं।मनपा क्षेत्र के बगीचों की हालत को जानने के लिए मनपा आयुक्त ने इस विभाग से संबंधित अधिकारियों के साथ मनपा मुख्यालय में विशेष बैठक की।जिसमें उन्होंने शहर के बगीचों की खस्ता हाल पर नाराजगी व्यक्त करते हुए संबंधित विभाग के अधिकारियों को 15 दिनों में शहर के सभी बगीचों को फिर से सुंदर बनाने का निर्देश दिया।

कठोर कार्रवाई करने का संकेत

बगीचों के संबंध में आयोजित विशेष बैठक के दौरान नवी मुंबई महानगरपालिका के आयुक्त बांगर ने इस विभाग से संबंधित सभी अधिकारियों को काम 100 प्रतिशत ध्यान देने के लिए कहा है। बगीचों के सुधार के काम के प्रति किसी प्रकार की लापरवाही को बर्दास्त नही किया जाएगा।ऐसी चेतावनी भी उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिया है। बगीचों को सुधारने व सुंदर बनाने के काम में लापरवाही करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।इस बात को भी मनपा आयुक्त बांगर ने स्पष्ट तौर पर कहा है।

हर दिन काम का निरीक्षण करने का आदेश

बगीचों के संबंध में आयोजित विशेष बैठक के दौरान मनपा आयुक्त बांगर ने  इस विभाग के सभी उपायुक्त व अधिकारियों को हर दिन अलग-अलग बगीचों में जाकर वहां पर हो रहे काम का निरीक्षण करने का आदेश दिया है। मनपा आयुक्त ने शहर के सभी बगीचों की मरम्मत, बगीचों की सुरक्षा व साफ-सफाई पर विशेष रूप से ध्यान देने का निर्देश भी संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिया है। मनपा मुख्यालय में हुई इस विशेष बैठक में मनपा के अतिरिक्त आयुक्त संजय काकडे, सभी बगीचा अधिकारी व सहायक अधिकारी मौजूद थे।