Prashant-Kishor

    नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election) में कांग्रेस (Congress) को फिर से प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) का साथ मिल सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के साथ कल हुई बैठक में किशोर को फिर से पार्टी के साथ जुड़ने का प्रस्ताव दिया है। कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के मौजूदगी में यह प्रस्ताव दिया गया है। 

    ज्ञात हो कि, राहुल गांधी के दिल्ली स्थित निवास पर आयोजित इस बैठक में प्रियंका गांधी, कांग्रेस संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, हरीश रावत मौजूद थे। वहीं सोनिया गांधी वर्चुअल माध्यम से इससे जुडी थी। 

    ब्लूप्रिंट तैयार करने जल्द होगी बैठकें 

    सूत्रों के अनुसार, चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश चुनाव और 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी के साथ रहने का प्रस्ताव दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार, किशोर ने भी इसपर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। जिसके बाद आने वाले कुछ दिनों में चुनाव की रणनीति तय करने और उसका ब्लूप्रिंट तैयार करने के लिए बैठक आयोजित करने का निर्णय लिया है। 

    दरअसल, बंगाल चुनाव के बाद प्रशांत किशोर की मांग फिर से बढ़ गई है। कांग्रेस को लगता है कि, उत्तर प्रदेश और लोकसभा में भाजपा को हारने में प्रशांत किशोर और उनकी रणनीति बड़ी सहायता कर सकती  है।