attack

  • तीनों बहनें दलित.

गोंडा.यूपी (UttarPradesh) के गोंडा (Gonda) ज़िले में हैवानियत की इंतेहा हो गई । सोमवार रात सोते समय तीन दलित बेटियों पर तेजाब डाल दिया गया । तीनों बुरी तरह झुलस गई हैं, गंभीर रूप से घायल है।एसिड फेंकने का कारण नही पता चल सका है।

गोंडा में यह मामला परसपुर क्षेत्र के पसका गांव का है। जहां रामावतार  की तीन बेटियों पर सोते समय तेजाब फेंका गया । जिससे तीनों बुरी तरह खुलस गई । गम्भीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया ।  इसके साथ ही पुलिस मामले की जांच कर रह रही है।

बताया जाता है कि रामावतार की 17 वर्षीया बेटी काजल (17 वर्ष), महिमा(12 वर्ष) तथा आठ वर्षीय सोनम छत की दूसरी मंजिल पर सो रही थीं। इसी दौरान तीनों पर रात ढाई बजे तेजाब फेंका गया । इनको लेकर परिवारीजन गोंडा जिला अस्पताल पहुंचे।जहां  तीनों की हालत नाजुक बताई जा रही है। पसका चौकी इंचार्ज उमेश वर्मा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

राजेश मिश्र, 

लखनऊ