Firing in Honduras prison kills five
File Photo

    वर्धा. अनाज की परस्पर बिक्री कर 2.4 करोड़ की हेराफेरी प्रकरण के तीनों आरोपियों को जेल रवाना कर दिया गया. 8 जून तक आरोपियों को पुलिस कस्टडी सुनाई गई थी़ उन्हें पुन: न्यायालय में पेश करने पर एमसीआर में भेज दिया़ ज्ञात हो कि यशवंत कालोनी निवासी कैलास अजाब काकडे (41) ने एमआईडीसी परिसर में गोदाम किराये पर लिया था, जहां तुअर व चने का माल रखा गया था.

    इसकी देखरेख की जिम्मेदारी जिओकेम कंपनी को सौंपी गई़ परंतु काकडे ने कंपनी के कर्मचारी विजयसिंग भीमसिंग ठाकुर (49) व राकेश नजरु कोगे (26) से मिलरभगत कर अनाज की परस्पर बिक्री कर दी़ तीनों ने 2 करोड़ 4 लाख रुपए की हेराफेरी की़ प्रकरण में ढाई वर्ष बाद आर्थिक शाखा पुलिस ने तीनों को हिरासत में लिया़ कस्टडी के दौरान पुलिस के हाथ महत्वपूर्ण जानकारी लगी है़ प्रकरण में आगे की जांच पीआई भानुदास पिदुरकर कर रहे है.