corona
File Photo

वर्धा. जिले में सोमवार 23 नवम्बर से 1 दिसंबर दौरान स्कूल आरंभ करने का निर्णय लिया गया है़ इस तर्ज पर माध्यमिक स्कूलों के मुख्याध्यापक, शिक्षक व कर्मचारियों की कोरोना जांच की जा रही है़ इसमें 22 नवम्बर तक जिले में करीब 45 शिक्षक कोरोनाबाधित पाये जाने से सर्वत्र हडकम्प मचा हुआ है़

बता दे कि, कोरोनाग्रस्त शिक्षकों की संख्या दिन ब दिन बढते ही जा रही है़ परिणामवश डर के मारे कुछ शिक्षक अभी भी अपनी कोरोना जांच कराने से कतराते नजर आ रहे है़ कोवीड के डर से अधिकांश शिक्षक टेस्ट कराने नहीं पहुंचने की जानकारी है़ शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में अब तक 2554 शिक्षकों ने अपनी कोरोना टेस्ट कराई है़ इसमें से करीब 45 की रिपोर्ट पॉजिटिव बताई गई़ जिले में 9 वीं से 12 वीं कक्षा के कुल 3300 लोग है़

इनमें 2200 टिचींग स्टाफ अन्य मुख्याध्यापक तथा शिक्षकेत्तर कर्मचारी है़ अब तक जिले के समुद्रपुर तहसील में 396, आर्वी में 256, आष्टी में 220, सेलु में 208, वर्धा में 564, देवली में 220 तथा हिंगनघाट तहसील में 450 इस प्रकार कुल 2554 शिक्षकों की कोरोना टेस्ट की गई है़ इनमें से 45 लोग पॉजिटिव होने की जानकारी शिक्षा विभाग ने दी़

भविष्य में यह आंकडा बढने की आशंका जताई जा रही है़ सोमवार से जिले में स्कूले आरंभ हो रही, ऐसी स्थिति में शिक्षक कोरोनाबाधित पाये जाने से शिक्षा विभाग के साथ ही पालकों में भी खलबली मची हुई है़