Filthiness in Samudrapur, Dengue

समुद्रपुर. गत कुछ दिनों से शहर में डेंग्यू ने आतंक मचा रखा है़ 25 अधिक लोग डेंग्यू से बाधित पाये जाने की जानकारी है. इससे शहरवासियों में दहशत व्याप्त है. वहीं दूसरी ओर स्थानीय स्वास्थ्य यंत्रणा उदासीन है. नगर पंचायत प्रशासन व जनप्रतिनिधियों की भी इस ओर अनदेखी हो रही. परिणामवश नागरिकों में हडकम्प मचा हुआ है.

बता दे कि, शहर में विकास के नाम पर खुदाई का काम किया गया है़ नालियों का निर्माण अधर में अटका है. काम के दौरान जगह जगह पाईपलाईन फुटी है. बार बार शिकायतों के बाद भी नगर पंचायत प्रशासन अनदेखी कर रहा. बारिश के कारण शहर में गंदगी व जलसंचय हो रहा है. इससे मच्छरों की पैदास अधिक बढ रही. पहले ही कोरोना संकट मंडरा रहा. ऐसे में अब डेंग्यू के मरिज पाये जाने से दहशत व्याप्त है.

शहर के वार्ड नं. 6 में एक माह पूर्व पहला डेंग्यू मरिज मिला था. किंन्तु स्वास्थ्य प्रशासन की लचर कार्यप्रणाली के कारण डेंग्यू ने शहर में अपने पैर पसारने शुरु कर दिए है. इसी वार्ड में 25 से अधिक नागिरक डेंग्यू से बाधित होने की जानकारी सामने आयी है.

जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड

स्थानीय नगर पंचायत ने विकास के नाम पर केवल अधुरे काम किए है़ इसका खामियाजा जनता को भूगतना पड रहा. जनता की समस्या को अनदेखी कर जनस्वास्थ्य से खिलवाड किया जा रहा. – मधुकर कामडी, गुटनेता, नपं-समुद्रपुर.

मरिजो पर ईलाज शुरु

वार्ड नं. 6 में डेंग्यू के संदिग्ध पाये गए है. अब तक पांच मरिज अस्पताल में पहुंचे. इनमें से 3 को उपचार के बाद छुट्टी दी गई. जबकि दो मरिजों पर ईलाज शुरु है. तहसील के कुछ हिस्सो में मरिज पाये गए है. – डा. पराते.

चल रही उपाययोजना

नालियों में छिडगांव, फॉगींग मशीन का उपयोग, शुध्द जलापूर्ति पर ध्यान दिया जा रहा़ हर दो दिन बात पेयजल कुएं में ब्लीचींग पाऊडर डाला का उपयोग कर पानी शुध्द कर रहे. डेंग्यू के मरिज पाये जाने से नियमित फॉगींग मशीन व औषधी का छीडकाव हो रहा है. – गजानन राऊत, नगराध्यक्ष, नपं-समुद्रपुर.